Saturday , June 15 2024

‘आग्रह करता रहा प्रशासन, महाकाल के दर्शन को खुद ही नहीं गए रणबीर-आलिया’: MP के गृह मंत्री ने बताया उज्जैन में क्या हुआ, किए गए थे तमाम इंतजाम

बॉलीवुड अभिनेता रणबीर कपूर (Ranbir Kapoor) और अभिनेत्री आलिया भट्ट् (Alia Bhatt) अपनी फिल्म ‘ब्रह्मास्त्र’ की रिलीज से पहले मंगलवार (6 सितंबर, 2022) को उज्जैन में भगवान महाकाल का दर्शन करने पहुँचे थे। लेकिन, वहाँ हिंदू संगठनों के विरोध के चलते उन्हें बिना दर्शन के ही वापस लौटना पड़ा। इन खबरों को लेकर मध्य प्रदेश के गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने एक बयान जारी किया है।

उन्होंने कहा कि अभिनेता रणबीर कपूर और अभिनेत्री आलिया भट्ट के महाकाल बाबा के दर्शन की पूरी व्यवस्था उज्जैन प्रशासन ने की थी, लेकिन प्रशासन के आग्रह के बावजूद वे दोनों खुद दर्शन के लिए नहीं गए। नरोत्तम मिश्रा ने कहा, “प्रदर्शन होगा ये एक अलग विषय है, लेकिन दर्शन के लिए कोई रोक नहीं है। उनके साथ आए बाकी लोगों और अयान मुखर्जी ने भी दर्शन किए। वहाँ पूरी व्यवस्था की गई थी। इनसे भी आग्रह किया गया था। मेरी खुद प्रशासन से बात हुई। प्रशासन के आग्रह के बावजूद रणबीर और आलिया खुद दर्शन करने नहीं गए। कलाकारों को भी लोगों की भावनाओं को आहत करने वाले शब्दों का प्रयोग नहीं करना चाहिए।”

रिपोर्ट्स के मुताबिक, मंगलवार (6 सितंबर, 2022) को रणबीर और उनकी पत्नी आलिया महाकाल मंदिर में दर्शन करने उज्जैन पहुँचे थे। मंदिर के बाहर हिंदू संगठनों ने काली पट्टी दिखाकर उनका विरोध किया। उन्होंने रणबीर और आलिया को मंदिर में घुसने तक नहीं दिया। उनका कहना था कि वे रणबीर जैसे ‘गौ-भक्षक’ को महाकाल के मंदिर में नहीं जाने देंगे।

बता दें कि ‘ब्राह्मास्त्र’ 9 सितंबर 2022 को रिलीज होने जा रही है। रणबीर कपूर और आलिया भट्ट की फिल्म ‘ब्रह्मास्त्र’ का विरोध अभिनेता की ‘बीफ’ टिप्पणी को लेकर हो रहा है। इसमें उन्होंने खुद को सबसे बड़ा बीफ लवर बताया था। साथ ही आलिया ने भी हाल ही में कहा था कि जो लोग उन्हें पसंद नहीं करते हैं, वो फिल्म देखने मत जाएँ। वहीं डायरेक्टर अयान मुखर्जी ने अच्छे से महाकाल के दर्शन किए थे। उन्होंने विधि-विधान से पूजा-अर्चना की। डायरेक्टर ने पूजा करते हुए अपने इंस्टाग्राम पर फोटो भी शेयर की है।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch