Saturday , October 8 2022

‘तुम्हें कन्हैया लाल और उमेश कोल्हे के पास भेज दूँगा’: गाजियाबाद के डॉक्टर को ‘सर तन से जुदा’ की धमकी, कहा – मोदी-योगी तुझे नहीं बचा पाएँगे

गाजियाबाद/लखनऊ। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में रहने वाले एक डॉक्टर को ‘सर तन से जुदा’ करने की धमकी मिलने का मामला सामने आया है। डॉक्टर को यह धमकी व्हाट्सएप्प कॉल के जरिए दी गई है। जिस नंबर से धमकी वाला कॉल आया था, वह नंबर अमेरिका का है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, गाजियाबाद के सिहानी गेट थाना क्षेत्र अंतर्गत रहने वाले डॉक्टर अरविंद वत्स अकेला को ‘सर तन से जुदा’ करने की धमकी मिली है। डॉक्टर ने बताया है कि उन्हें पहला कॉल 1 सितंबर को रात 11 बजे कॉल आया था। यह कॉल व्हाट्सएप्प पर था और डीपी में नकाब लगाए हुए किसी व्यक्ति की फोटो थी। इसलिए, उन्होंने फोन नहीं उठाया। लेकिन, अगले दिन यानी 2 सितंबर को एक बार फिर उन्हें कॉल आया।

डॉक्टर अरविंद वत्स अकेला ने का कहना है कि 2 सितंबर को आई कॉल में 5 मिनट 2 सेकंड बात हुई थी। इस बातचीत के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा, “जैसे ही मैंने फोन उठाया तो उधर से किसी ने कहा डॉक्टर अकेला बोल रहे हो। मैंने कहा, हाँ। इसके बाद उसने कहा कि मैं तुम्हें कन्हैया लाल तेली और उमेश कोल्हे के पास भेज रहा हूँ। तो मैंने बोला कि क्या बात हो गई। इस पर उसने कहा कि तुम हिंदू संगठन की बात करते हो। मैं देखता हूँ कि तुम्हारा मोदी-धोधी, योगी और यति नरसिंहानंद जो तेरा गुरु है वो खुद बिल में दुबका पड़ा है, तेरे को क्या बचाएगा।”

फोन में मिली धमकी के बारे में डॉक्टर ने आगे बताया, “धमकी देने वाले ने कहा हमने तुम्हारी सारी रेकी कर ली है। हमें पता है तू कहाँ रहता है, क्या करता है और कहाँ जाता है। गुस्ताख-ए-रसूल की एक ही सजा ,सर तन से जुदा। इस पर मैंने कहा कि मैंने तो ऐसी कोई पोस्ट भी नहीं डाली है। क्या बात हो गई? तो उसने कहा कि वो तुझे पता चल जाएगा। फोन करने वाले शख्स ने मुझे हिंदू संगठनों का समर्थन करने पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी है।”

बताया जा रहा है कि डॉक्टर वत्स बीते करीब 24 सालों से क्लीनिक चला रहे हैं। वह कई हिंदू संगठनों से भी जुड़े हैं और ‘हिंदू स्वाभिमान मंच’ के उत्तर प्रदेश और बिहार के प्रभारी भी हैं। इसी संगठन के संरक्षक डासना देवी मंदिर के पीठाधीश्वर और श्रीपंचदशनाम जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी हैं। डॉक्टर का कहना है कि वह और उनका पूरा परिवार डरा हुआ है। उन्हें रास्ते बदलकर घर आना-जाना पड़ता है।

इस मामले में गाजियाबाद के एसएसपी मुनिराज ने कहा कि डॉक्टर की शिकायत के आधार पर सिहानी गेट थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है। साइबर सेल को भी इस मामले में जाँच करने के लिए कहा गया है। जिस नंबर से कॉल आया, था उसे ट्रेस करने का प्रयास किया जा रहा है। टेक्नोलॉजी के जमाने में आज भारत में बैठकर ही अमेरिका के या किसी अन्य के नंबर से कॉल किया जा सकता है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.