Friday , October 7 2022

VIDEO: रोजर फेडरर आखिरी मुकाबले में हार के बाद रो पड़े, पेशेवर टेनिस को कहा अलविदा

महान टेनिस खिलाड़ी रोजर फेडरर अपने करियर के आखिरी मुकाबले में हार गए. लेवर कप में 20 बार के ग्रैंड स्लैम चैंपियन फेडरर डबल्स मुकाबले में अपने जोड़ीदार राफेल नडाल के साथ उतरे. अमेरिका के फ्रांसेस टियाफो और जैक सॉक की जोड़ी ने इम मुकाबले में नडाल और फेडरर को 4-6, 7-6, 11-9 से हराया. इस हार के साथ ही फेडरर का पेशेवर टेनिस करियर खत्म हुआ. मुकाबले के बाद फेडरर के साथ-साथ नडाल भी रोते दिखे. मैच देखने आए नोवाक जोकोविच भी अपनी आंसुओं को रोक नहीं पाए.

मुकाबले के बाद फेडरर बेहद भावुक हो गए. पिछले कुछ साल से फेडरर चोटों से जूझ रहे थे. घुटने की चोट की वजह से उन्होंने विंबलडन 2021 के बाद एक भी मैच नहीं खेला था. हाल में ही उन्होंने संन्यास का ऐलान किया था.

फेडरर ने करीब 25 सालों तक पेशेवर टेनिस खेला. उन्होंने सितंबर 1997 में 16 साल की उम्र में डेब्यू किया था. रैंकिंग में 803 वें स्थान से अपना सफर शुरू करने के बाद शीर्ष तक पहुंचे. फेडलर 237 सप्ताह तक वर्ल्ड रैंकिंग में नंबर वन पर रहे हैं. रैंकिंग में सबसे अधिक समय तक पहले स्थान पर रहने का उनका रिकॉर्ड सर्बियाई खिलाड़ी नोवाक जोकोविच ने तोड़ा था.

फेडरर का सबसे ज्यादा ग्रैंड स्लैम खिताब जीतने के मामले में तीसरे नंबर पर
रोजर फेडरर ने 6 बार ऑस्ट्रेलियन ओपन, एक बार फ्रेंच ओपन, 8 बार विंबलडन और 5 बार यूएस ओपन खिताब अपने नाम किया है. फेडरर ने अपना आखिरी ग्रैंडस्लैम खिताब 2018 में ऑस्ट्रेलियन ओपन के रूप में जीता था. उस समय वह 20 ग्रैंड स्लैम खिताब जीतने वाले पहले पुरुष खिलाड़ी बने थे. उनका रिकॉर्ड राफेल नडाल और नोवाक जोकोविच ने तोड़ा. नडाल ने 22 जबकि जोकोविच ने 21 ग्रैंड स्लैम खिताब पर कब्जा जमाया है.

इसके अलावा वह ओलंपिक में एक गोल्ड और एक सिल्वर मेडल भी जीत चुके हैं. रोजर फेडरर ने महज 21 साल की उम्र में साल 2003 में पहला ग्रैंड स्लैम खिताब जीता था. वह विंबडलन चैंपियन बने थे. फेडरर की मां खुद एक टेनिस खिलाड़ी रह चुकी हैं.

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.