Wednesday , December 7 2022

जिसे महेंद्र सिंह धोनी ने नहीं समझा गेंदबाज, उसी ने अपने दम पर जिता दी दिलीप ट्रॉफी, टीम इंडिया में वापसी का ठोका दावा

भारतीय क्रिकेट का घरेलू टूर्नामेंट दिलीप ट्राफी का फाइनल मुकाबले का आज कोयंबुत्तूर (Coimbatore) के क्रिकेट स्टेडियम में समापन हो गया है. फाइनल मुकाबले के आज आखरी दिन वेस्ट जोन ने  साउथ जोन को 294 रन के भारी अंतर से हरा कर Duleep Trophy 2022 का खिताब अपने नाम कर लिया है. इस खिताबी जीत में अनुभवी जयदेव उनादकट (Jaydev Unadkat) टीम के लिए हीरो बनकर उभरे थे जिन्हें इस टूर्नामेंट के लिए ‘प्लेयर ऑफ द सीरीज’ चुना गया है.

दिलीप ट्राफी में वेस्टजोन ने शानदार जीत दर्ज की और 12 साल बाद पश्चिम जोन के लिए ट्राफी जीती है. तीन मैचों में टीम की बल्लेबाज़ी काफी शानदार रही लेकिन जीत में हीरो जयदेव उनादकट नजर आते है. फाइनल में वेस्ट जोन ने पहली पारी में ऑल आउट होने तक 270 रन बनाए. इसके जवाब में साउथ जोन ने 327 रन बनाए. इस दौरान जयदेव ने 19 ओवरों में 52 रन देकर 4 विकेट लिए. जयदेव ने 5 मेडन ओवर भी निकाले.

पुरे टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले उनादकट (Jaydev Unadkat) दूसरे नंबर पर आये है. उन्होंने 3 मैचों में 13 विकेट झटके. इस दौरान उन्होंने कुल 70.3 ओवर किए और 423 रन दिए. साई किशोर विकेट लेने के मामले में पहले स्थान पर रहे.

जयदेव उनादकट (Jaydev Unadkat) भारतीय टीम के साथ साल 2010 में जुड़े थे. वो भारत के लिए तीनो फॉर्मेट खेल चुके है. उनादकट ने भारत के लिए 1 टेस्ट, 7 वनडे मैचों के साथ-साथ 10 टी20 मुकाबले भी खेले है. इस दौरान उनका प्रदर्शन ज्यादा शानदार नहीं रहा और उनके नाम वनडे में 8 विकेट और टी20 मुकाबलों में 14 विकेट दर्ज है. टेस्ट मैच में उनके नाम एक भी विकेट दर्ज नहीं है. आईपीएल में जयदेव के नाम पर 91 मैचों में 91 विकेट दर्ज है.  शानदार प्रदर्शन के दम पर जयदेव उनादकट अब टीम इंडिया में वापसी की कोशिश कर रहे है.

वेस्टजोन ने फाइनल मुकाबले में पहले बल्लेबाज़ी करते हुए खराब शुरुआत की. टीम का टॉप आर्डर बिखर गया लेकिन निचले क्रम के हेत पटेल के शानदार 98 रनों और जयदेव उनादकट के बहुमूल्य 47 रनों के चलते टीम का स्कोर 270 तक पहुंचा. साउथ जोन ने अपनी पारी की शुरुआत काफी संभली हुई की. टॉप आर्डर के नाकाम होने के बा बाबा इंदरजीत के शतक की बदौलत टीम 327 का आकंडा छु पायी.

इसके बाद वेस्ट जोन ने अपनी दूसरी पारी में बेहद ही शानदार बल्लेबाज़ी का परिचय दिया. टीम के सलामी बल्लेबाज़ यशस्वी जैसवाल ने शानदार दोहरा शतक लगाया. उन्होंने 265 रन की पारी खेली. इसके बाद श्रेयस अय्यर ने 71 रन और हेत पटेल ने 51 रन की पारी खेली है. इसके अलावा सरफराज खान का शतक भी टीम को 585 रन के स्कोर तक ले गये. लक्ष्य का पीछा करने उतरी साउथ जोन ने रोहन कुन्नुम्मल के अलावा सिर्फ रवि तेजा ने थोडा संघर्ष करते नज़र आये लेकिन अंत में पूरी टीम 234 रन पर आलआउट हो गयी और वेस्टजोन ने यह मैच 294 रन से जीत लिया.

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.