Wednesday , April 24 2024

आज रिटायर होंगे मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक, RLD में हो सकते हैं शामिल

नई दिल्ली। मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक आज रिटायर हो रहे हैं. रिटायरमेंट से पहले ही सत्यपाल मलिक ने बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है. वो पीएम मोदी पर किसी न किसी तरह के आरोप और हमले करते आ रहे हैं. अगले तीन अक्टूबर को शामली में होने वाले किसान सम्मेलन में वो राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी के साथ मंच साझा करेंगे.

बीते महीने यानी अगस्त में न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) को लेकर सत्यपाल मलिक ने बीजेपी को घेरा. हरियाणा के नूंह में उन्होंने कहा कि MSP इसलिए लागू नहीं होगी क्योंकि प्रधानमंत्री का एक दोस्त है अडानी, जो एशिया का सबसे मालदार आदमी बन गया है पांच साल में.” मलिक ने देश को बेचे जाने का आरोप भी सरकार पर लगाया है.

किसानों को एमएसपी देनी होगी: मलिक

सत्यपाल मलिक ने यह भी कहा, ”एमएसपी जब तक लागू ना हो और उसको कानूनी दर्जा ना मिले, तो दोबारा लड़ाई होगी और इस बार जबरदस्त लड़ाई होगी. देश के किसान को आप पराजित नहीं कर सकते है. उसे डरा नहीं सकते, उसके यहां ईडी नहीं भेज सकते, किसी इनकम टैक्स वाले को नहीं भेज सकते. उसको काहे से डराओगे. वो तो पहले से फकीर है. उसको तो वैसे ही कहीं का नहीं छोड़ा. इसलिए वो लड़ेगा और एमएसपी लेके रहेगा.”

किसानों की लड़ाई लड़ूंगा: मलिक

मलिक ने यह भी कहा, ”अडानी ने पानीपत में बहुत बड़ा गोदाम बनाया है. जिसमें सस्ता गेहूं लेकर भर दिया है. जब महंगाई होगी तब वो इस गेहूं को निकालेगा. प्रधानमंत्री के दोस्त मुनाफा कमाएंगे और किसान बर्बाद होगा. यह चीज बर्दास्त नहीं की जाएगी इसके खिलाफ लड़ाई होगी. अभी जो मेरी पोजीशन है, उसे छोड़ने के बाद मैं किसानों की लड़ाई में पूरी तरह से कूद पडूंगा. पूरी तरह से उसमें हिस्सेदारी करूंगा. सभी लोग मिलकर लड़ना सीखो. जिसका फायदा सभी को मिलेगा.”

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch