Friday , April 19 2024

पालघर मॉब लिंचिंग केस की अब CBI करेगी जांच? SC में बोली शिंदे सरकार- हम तैयार; उद्धव ने किया था इनकार

मुंबई। महाराष्ट्र के पालघर में साल 2020 में हुए मॉब लिंचिंग मामले में राज्य सरकार मामले की जांच सीबीआई को सौंपने को तैयार हो गई है. पालघर मॉब लिंचिंग केस की सीबीआई जांच की मांग वाली याचिका पर अपने हलफनामे में महाराष्ट्र सरकार ने कहा कि वह सीबीआई को मामले की जांच सौंपने को तैयार है और उसे इससे कोई आपत्ति नहीं है. बता दें कि उद्धव जब मुख्यमंत्री थे, तब इसका विरोध किया गया था.

दरअसल, पालघर में 2 साधु समेत तीन लोगों की पीट-पीटकर हत्या का मामला सुप्रीम कोर्ट में है. सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर कर मांग की गई है कि इस केस की जांच सीबीआई से करवाई जाए. हालांकि, जब महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे की सरकार थी, तब राज्य सरकार ने इस जांच का विरोध किया था. मगर अब क्योंकि भाजपा के समर्थन से एकनाथ शिंदे की सरकार है, ऐसे में राज्य सकार सीबीआई जांच पर राजी हो गई है.

क्या हुआ था 16 अप्रैल 2020 की रात
16 अप्रैल 2022 की रात महाराष्ट्र के पालघर जिले में मौजूद गढ़चिंचली गांव में ग्रामीणों ने कार सवार तीन लोगों पर पत्थर, डंडों और कुल्हाड़ियों से हमला कर दिया था. हमले का शिकार हुए तीन लोगों में दो साधु और एक ड्राइवर शामिल था. तीनों पालघर के रास्ते सूरत में एक अंतिम संस्कार कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे थे. ग्रामीणों ने इन लोगों पर हमला बच्चा चोरी और अंग तस्करी के शक के चलते किया था. इस पर काफी बवाल भी हुआ था.
साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch