Sunday , April 21 2024

J-K में परफ्यूम बम अटैक की साजिश… छूते ही हो जाता है ब्लास्ट, गिरफ्तार लश्कर आतंकी के पास बरामद

जम्मू कश्मीर के नरवाल में 21 जनवरी को 2 IED धमाके हुए थे. इस हमले में 9 लोग जख्मी हुए थे. पुलिस ने ब्लास्ट को अंजाम देने वाले आतंकी को गिरफ्तार कर लिया है. यह आतंकी पाकिस्तान में बैठे लश्कर-ए-तैयबा के हैंडलर के साथ संपर्क में था. इतना ही नहीं आतंकी के पास परफ्यूम बम (perfume IED) मिला है. सुरक्षाबलों के मुताबिक, जैसे ही कोई इस परफ्यूम को हाथ लगाता है या दबाता है, यह फट जाता है. खास बात ये है कि सुरक्षाबलों ने पहली बार जम्मू कश्मीर में इस तरह के परफ्यूम बम को बरामद किया है.

दिलबाग सिंह ने बताया कि इस मामले में आतंकी आरिफ को गिरफ्तार किया गया है. वह रियासी का रहने वाला है. आरिफ सरकारी टीचर है. ये पिछले 3 साल से सीमा पार लश्कर-ए-तैयबा के हैंडलर के साथ जुड़ा था. आतंकी आरिफ के पास परफ्यूम बम बरामद हुआ है. पहली बार इस तरह का परफ्यूम आईईडी मिला है. उन्होंने बताया कि परफ्यूम बम में आईईडी होता है, अगर कोई इसे छूता, खोलता या दबाने की कोशिश करता है, यो यह फट जाता है.

दिलबाग सिंह ने आतंकी आरिफ का पाकिस्तानी कनेक्शन मिला है. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान अपनी धरती का इस्तेमाल आतंकियों को करने देने के लिए जाना जाता है. पाकिस्तान की धरती का इस्तेमाल कर आतंकी दुनियाभर में सैकड़ों निर्दोषों की हत्या को अंजाम देते रहे हैं. पाकिस्तान जम्मू कश्मीर में लोगों के बीच एक सांप्रदायिक विभाजन पैदा करना चाहता है.

जम्मू-कश्मीर डीजीपी ने बताया कि आरिफ ने माना है कि फरवरी 2022 में शास्त्री नगर में एक IED धमाका हुआ था, उसमें आरिफ शामिल था. कटरा में धमाके के बाद बस में आग लगी थी, आरिफ ने माना है कि वो IED बस में इसी ने लगाई थी. दरअसल, मई 2022 में ये बस श्रद्धालुओं को लेकर वैष्णो देवी जा रही था, तभी ये ब्लास्ट हुआ था. इसमें चार लोगों की मौत हुई थी. जबकि 22 लोग जख्मी हुए थे. उन्होंने बताया कि दिसंबर में आरिफ को तीन आईईडी मिली थीं. इनमें से दो का इस्तेमाल उसने नरवाल में किया था. वह लगातार इस क्षेत्र में आतंकी गतिविधियों को अंजाम दे रहा था.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch