Wednesday , February 28 2024

जान बची तो अस्मत लुटी! आत्महत्या से बची महिला से अस्पताल ले जाते वक्त एंबुलेंस में रेप

केरल से एक शर्मनाक घटना सामने आई है। आत्महत्या की कोशिश करने वाली एक महिला को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया जा रहा था। इसी दौरान एक वॉर्ड बॉय ने एंबुलेंस के अंदर ही उसका रेप कर दिया। यह घटना उस वक्त हुई, जब महिला को त्रिशूर मेडिकल हॉस्पिटल शिफ्ट करने के लिए ले जाया जा रहा था। पुलिस ने यह जानकारी दी है। पुलिस ने बताया कि इस मामले में कोडुंगलूर तालुक अस्पताल के एक कर्मचारी के. दयालाल को आरोपी के तौर पर गिरफ्तार किया गया है। मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में पहुंचने के बाद पीड़िता ने डॉक्टरों को आपबीती बताई। इसके बाद पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी को अरेस्ट कर लिया।

इसके बाद पुलिस ने आरोपी को दबोच लिया, जो घिनौनी हरकत के बाद भागने की फिराक में था। इस मामले में हेल्थ मिनिस्टर वीना जॉर्ज ने अस्पताल के अधीक्षक से रिपोर्ट तलब की है। आरोपी दयालाल को गिरफ्तारी के साथ ही नौकरी से भी तत्काल प्रभाव से हटा दिया है। वह कॉन्ट्रैक्ट पर नौकरी कर रहा था। दो साल पहले भी ऐसा ही एक वाकया कोट्टयम में हुआ था। तब एक कोरोना पीड़ित युवती से एंबुलेंस ड्राइवर ने रेप किया था। उसके बाद ही सरकार ने आदेश दिया था कि महिला मरीजों को अकेले अस्पताल नहीं ले जाया जाएगा। कोई हेल्थ वर्कर भी उसके साथ रहेगा। पुलिस को संदेह है कि आरोपी ने पहले भी कुछ ऐसी घटनाओं को अंजाम दिया होगा, जिसकी जांच की जा रही है।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch