Sunday , April 21 2024

भूकंप से 2300 से अधिक की गई जान, सीरिया-तुर्की में लाशों का अंबार; मदद को आगे आया भारत

तुर्की और सीरिया में भूकंप से मची तबाही के चलते मौतों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। सोमवार शाम तक तुर्की में इससे 900 से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके थे। वहीं, सीरिया में मरने वालों की कुल संख्या 1300 से अधिक हो चुकी है। बता दें कि सीरिया और तुर्की में आए भयानक भूकंप के चलते जानमाल की भारी तबाही हुई है। तुर्की के राष्ट्रपति आर्देआन के मुताबिक उनके देश में 912 लोगों की जान जा चुकी है, वहीं करीब छह हजार लोग घायल हुए हैं। बचाव कार्य जोरों पर चल रहा है। इस बीच मरने वालों की संख्या में और इजाफा होने की आशंका जताई जा रही है।

गौरतलब है कि सोमवार की सुबह तुर्की भूकंप के दो शक्तिशाली झटकों से दहल उठा। भूकंप के यह झटके इतने जबर्दस्त थे कि देखते ही देखते बड़ी-बड़ी बिल्डिंगें जमींदोज हो गईं। भूकंप के यह झटके भोर के वक्त आए जब बहुत से लोग नींद के आगोश में थे और उन्हें घर से बाहर निकलने या संभलने का जरा सा भी मौका नहीं मिला। यही वजह है कि मरने वालों की संख्या काफी ज्यादा है। तुर्की के विभिन्न शहरों में तबाही का मंजर सामने आ रहा है। जानकारी के मुताबिक तुर्की के करीब 10 शहरों में भूकंप ने बहुत जबर्दस्त असर डाला है। सीरिया में हालात बहुत ज्यादा खराब हैं। यहां पर मरने वालों की संख्या 1300 के पार पहुंच चुकी है। सीरिया के विभिन्न शहरों, अलेप्पो, टार्टस, हामा वगैरह में भारी तबाही का समाचार है। बताया जा रहा है कि अभी भी बड़ी संख्या में लोग अलग-अलग जगहों पर फंसे हुए हैं। इसलिए मौतों का आंकड़ा भी और ज्यादा बढ़ सकता है।

भारत ने बढ़ाया मदद का हाथ
तुर्की में भूकंप पीड़ितों की मदद के लिए भारत ने भी हाथ बढ़ाया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तुर्की के राष्ट्रपति से वहां पर हुए जानमाल के भारी नुकसान को लेकर सांत्वना जताई है। इसके साथ ही पीएम मोदी ने सभी जरूरी सहायता मुहैया कराए जाने की बात भी कही है। पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा कि तुर्की में भूकंप के चलते जान-माल की क्षति से दुख हुआ। उन्होंने सभी दुखी परिवारों को सांत्वना देते हुए घायलों के जल्द स्वस्थ होने की भी कामना की। साथ ही कहा कि भारत इस दुख की घड़ी में तुर्की के लोगों के साथ खड़ा है। एक अन्य ट्वीट में पीएम मोदी ने सीरिया में आए भूकंप पर भी दुख जताया है।

वहीं, प्रधानमंत्री के प्रिंसिपल सेक्रेट्री पीके मिश्रा ने एक मीटिंग बुलाकर एनडीआरएफ और मेडिकल टीम को रवाना करने का निर्देश दिया। इसके मुताबिक एनडीआरएफ की 100 सदस्यों वाली दो टीमें, स्पेशल ट्रेंड डॉग स्क्वॉड और जरूरी उपकरणों के साथ भूकंप प्रभावित क्षेत्रों के लिए उड़ान भरने के लिए तैयार हैं। यह टीमें वहां पर खोज और बचाव अभियान मदद करेंगी। इसके अलावा जीवन रक्षक दवाओं से लैश मेडिकल टीम भी रवाना की जाएगी।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch