Sunday , May 26 2024

250 जवान, 129 टन मेडिकल उपकरण, 30 बेड वाला अस्पताल: ‘ऑपरेशन दोस्त’ के तहत भारत ने राहत सामग्री भरकर तुर्की भेजे 6 विमान, भूकंप से 15000 मौतें

नई दिल्ली। तुर्की-सीरिया में आए विनाशकारी भूकंप से जान-माल की भारी क्षति हुई है। मृतकों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। ऐसे में भारत ने भी भूकंप प्रभावित देश की मदद के लिए अपना हाथ बढ़ाया है। भारत लगातार राहत सामग्री भेजकर तुर्की-सीरिया की मदद कर रहा है। एक रिपोर्ट के अनुसार, तुर्की के राष्ट्रपति ने बताया कि भूकंप से अब तक 15,000 लोग अपनी जान गँवा चुके हैं।

आपदा की इस घड़ी में भारत भूकंप आने के बाद से लगातार राहत सामग्री भेज रहा है। भारत ‘ऑपरेशन मदद’ की तहत इस कार्य को अंजाम दे रहा है। इस बीच राहत सामग्री के साथ एक और विमान तुर्की पहुँच चुका है। भारत सरकार अब तक इस तरह के छह विमानों तुर्की भेज चुकी है। दूसरी ओर तुर्की व सीरिया की सरकार जल्द से जल्द बचाव कार्य को तेजी से समाप्त करना चाहती है ताकि जिंदा बचे लोगों को सकुशल बाहर निकाला जा सके। इसी क्रम में विश्व के देश दोनों देशों की मदद कर रहे हैं।

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने गुरुवार (9 फरवरी 2023) को छठे विमान के तुर्की पहुँचने की जानकारी दी। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ”ऑपरेशन दोस्त के तहत छठी फ्लाइट तुर्की पहुँच गई है। राहत प्रयासों में तेजी लाने के लिए ज्यादा खोज और बचाव दल, डॉग स्क्वॉड, आवश्यक खोज और पहुँच उपकरण, दवाएँ और चिकित्सा उपकरण अपनी सेवा देने के लिए तैयार हैं।”

भारत ने मंगलवार (7 फरवरी 2023) को तुर्की में राहत सामग्री भेजी थी। राहत सामग्री में 30 बिस्तरों वाला एक मोबाइल अस्पताल भी शामिल था। इसके साथ ही भारत ने चार सी-17 ग्लोबमास्टर सैन्य परिवहन विमानों के जरिए विशेष खोज और बचाव दल भेजा था। भारत सरकार ने सीरिया के लिए भी राहत सामग्री भेजी थी। भारतीय वायु सेना के सी-130 जे विमान के जरिए सीरिया में मदद पहुँचाई गई है।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch