Sunday , May 26 2024

जलकल विभाग में नियुक्ति मामले पर नगर निगम और जलकल के कई बड़े अधिकारियों पर दर्ज होगी एफआईआर

गलत नियुक्ति मामले पर कोर्ट से जारी हुआ था कई अधिकारियों को नोटिस

नगर निगम व जलकल के अधिकारियों ने कोर्ट की नोटिस का नहीं दिया था जवाब

शिकायतकर्ता ने धारा 156 (3) में नगर निगम और जलकल कर्मचारियों पर एफ आई आर दर्ज कराने को लेकर सीजेएम कोर्ट में डाली थी याचिका

शिकायतकर्ता की याचिका को सीजेएम कोर्ट ने किया मंजूर, पिछले कई महीने से लखनऊ नगर आयुक्त इंद्रजीत सिंह शिकायतकर्ता को जांच के नाम पर कर रहे थे गुमराह।

लखनऊ। नगर आयुक्त इंद्रजीत सिंह, पशु चिकित्सा अधिकारी बहराइच अनुराग यादव, पूर्व जलकल महाप्रबंधक शैलेंद्र कुमार वर्मा , पूर्व सचिव वर्तमान महाप्रबंधक वाराणसी रघुवेंद्र, वर्तमान जलकल सचिव रमेश चंद्रा ,जलकल वित्त अधिकारी गिरिराज अग्रवाल समेत कई अन्य अधिकारियों पर दर्ज होगी एफआईआर।

सहायक लेखाकार मृत्युंजय की नियुक्ति के मामले पर कई अधिकारियों पर एफ आई आर दर्ज होने के जारी हुए आदेश। वर्ष 2012 सहायक लेखाकार मृत्युंजय कि मृतक आश्रित कनिष्ठ लेखा लिपिक पद 1900 ग्रेड पे पर हुई थी नियुक्ति वर्ष 2013 में सहायक लेखाकार मृत्युंजय का बढ़ाया गया 2000 ग्रेड पे, 1 साल में बढ़ा ग्रेड पे आखिर कैसे। अधिकारियों की मिलीभगत से मृतक आश्रित नियुक्ति को दिखाया सीधी भर्ती। सहायक लेखाकार मृत्युंजय की नियुक्ति में जलकल पूर्व सचिव वर्तमान महाप्रबंधक रघुवेंद्र द्वारा की गई थी भारी अनियमितताएं। नियुक्ति से पूर्व सहायक लेखाकार पर आजमगढ़ और लखनऊ जनपद में दर्ज थे दो मुकदमे। वर्ष 2009 सहायक लेखाकार पर लड़की छेड़खानी मामले पर 469ए/9 धारा 294, 323, 504 आईपीसी में दर्ज है मुकदमा।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch