Sunday , May 26 2024

तुम्हारे हाथ खून से सने हैं, क्यों वोट दें, अमेरिकी सैनिक ने जो बाइडेन को खूब सुनाया; VIDEO

अगले साल होने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव से पहले जो बाइडेन को तीखी प्रतिक्रिया का सामना करना पड़ रहा है। मंगलवार को अमेरिकी वायुसेना के एक पूर्व अधिकारी ने जो बाइडेन को खूब खरी-खोटी सुनाई। यूएस वायु सेना के पूर्व अधिकारी ने मिडिल-ईस्ट में अमेरिकी युद्धों में जो बाइडेन की भूमिका पर सवाल सवाते हुए कहा कि ‘बाइडेन के हाथ खून से रंगे हैं।’

अमेरिकी सैनिक ने कहा, “मैं वायु सेना का पूर्व सैनिक हूं और यहां सेना के एक पूर्व सैनिक के साथ आया हूं। हम बस सोच रहे हैं कि हमें किसी ऐसे व्यक्ति को वोट क्यों देना चाहिए जिसने युद्ध के पक्ष में वोट किया और उसका समर्थन किया। इन युद्धों में हमारे हजारों भाई, बहनें, अनगिनत इराकी नागरिक मारे गए।” पूर्व सैनिक ने आगे कहा, “आपने वह युद्ध कराया। आपने उस व्यक्ति को मेडल भी दिया जिसने उस युद्ध को अंजाम दिया। तुम्हारे हाथ भी खून से रंगे हैं। मिस्टर बाइडेन, आप इस (राष्ट्रपति) लायक नहीं हैं। मेरे दोस्त आपकी नीतियों के कारण मारे गए हैं।”

पूर्व सैनिक जो बाइडेन को खरी-खोटी सुनाता रहा और वे चुपचाप सुनते थे। बाद में बाइडेन ने कहा कि उनका बेटा भी इराक युद्ध में लड़ा था। उन्होंने कहा, “आपको क्या लगता है, यह मेरे लिए मायने नहीं रखता? यह मेरे लिए बहुत मायने रखता है। मेरा बेटा ईराक युद्ध में था।” बाइडेन की बात का जवाब देते हुए पूर्व अमेरिकी सैनिक ने कहा कि वह उनके बेटे के बारे में ज्यादा नहीं बोलना चाहते। इस पर बाइडेन ने उन्हें चेतावनी देते हुए कहा, “बेहतर होगा कि न ही बोलें।”

“उनका खून तुम्हारे हाथों में है”

जब बाइडेन उस व्यक्ति से दूर जाने लगो तो वह चिल्लाकर बोला, “आप अयोग्य हैं, सर! आप अयोग्य हैं! उनका खून तुम्हारे हाथों में है! मेरे भाइयों और बहनों की इराक और अफगानिस्तान में मौतें हुईं और आपने ऐसा होने दिया।” पूर्व सैनिक ने आगे कहा, “वह अयोग्य हैं। वह किसी भी तरह से राष्ट्रपति बनने लायक नहीं हैं। वे मर चुके हैं। इराक में लाखों लोग मारे गए हैं। उन्हें राष्ट्रपति नहीं बनने दिया जाए। जो बाइडेन की तुलना में ट्रम्प ज्यादा युद्ध-विरोधी हैं।” इंटरनेट पर लोग पूर्व अमेरिकी सैनिक की जमकर तारीफ कर रहे हैं। लोग उन्हें “सच्चा आदमी” और “बहादुर देशभक्त” बता रहे हैं। हालांकि कुछ लोगों ने कहा कि इराक युद्ध के लिए बाइडेन को दोषी नहीं ठहराया जाना चाहिए क्योंकि इसके लिए पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश जिम्मेदार थे।

चुनावों में इराक युद्ध एक प्रमुख मुद्दा

बता दें कि हाल के कुछ अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों में इराक युद्ध एक प्रमुख मुद्दा रहा है। जब 2008 में बराक ओबामा राष्ट्रपति बने तब इराक युद्ध मुद्दे की बड़ी भूमिका रही। ओबामा की प्रतिद्वंदी उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन ने युद्ध के समर्थन में वोट किया था जबकि ओबामा ऐसा नहीं किया था। 2016 में, डोनाल्ड ट्रम्प ने भी विरोधियों के खिलाफ इराक युद्ध का इस्तेमाल किया था। उन्होंने भी क्लिंटन के खिलाफ इसका इस्तेमाल किया और जीत हासिल की।

बाइडेन के लिए यह मुद्दा इसलिए भी अहम है क्योंकि उन्होंने न केवल युद्ध के समर्थन में वोट किया था बल्कि उस युद्ध को अंजाम देने में उनकी भूमिका बेहद अहम रही। ईराक युद्ध को लेकर संसद में बहस के दौरान, बाइडेन ने राष्ट्रपति बुश को इराक पर आक्रमण करने का अधिकार देने वाले 2002 के प्रस्ताव के पक्ष में दृढ़ता से तर्क दिया था।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch