Sunday , February 25 2024

‘औरंगजेब ने 50 साल हुकूमत की, इसे कोई नहीं भूल सकता’: बी आर आंबेडकर के पोते ने औरंगजेब की कब्र पर टेका माथा

औरंगजेब प्रकाश आंबेडकरमहाराष्ट्र की राजनीति में औरंगजेब को लेकर सियासी बवाल मचा हुआ है। सूबे के कई जिलों में हिंसक घटनाएँ भी हुईं हैं। इस बीच महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे के सहयोगी और वंचित बहुजन आघाडी के अध्यक्ष प्रकाश आंबेडकर ने औरंगजेब की कब्र पर सिर झुकाया है। ऐसे में महाराष्ट्र की सियासत में नया विवाद बढ़ने की आशंका जताई जा रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, बाबा साहेब आंबेडकर के पोते प्रकाश आंबेडकर शनिवार (17 जून, 2023) को छतरपुर संभाजी नगर जिले में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुँचे थे। इस कार्यक्रम के बाद वह अपने सहयोगियों के साथ औरंगजेब की कब्र पर पहुँचे। यहाँ उन्होंने कब्र पर फूल चढ़ाकर सिर झुकाते नजर आए। औरंगजेब की मजार पर पहुँचने को लेकर प्रकाश आंबेडकर ने कहा है, “मैं पर्यटन स्थल के तौर पर यहाँ आया हूँ। औरंगजेब के नाम पर जिस तरह लड़ाइयाँ लड़ने का काम चल रहा है, उनसे मैं कहना चाहता हूँ औरंगजेब ने 50 साल राज किया। यह किसी से मिटाते नहीं बनेगा।”

वहीं, इस मुद्दे पर BJP ने प्रकाश आंबेडकर पर हमला बोला है। बीजेपी प्रवक्ता अजित चव्हाण ने कहा है, “प्रकाश आंबेडकर ने पापी औरंगजेब की कब्र पर जाकर सलाम ठोंका है। यह धर्मवीर छत्रपति संभाजी महाराज के बलिदान का अपमान है। काश उन्होंने बाबासाहेब आंबेडकर की किताब ‘थॉट्स ऑन पाकिस्तान’ पढ़ी होती।”

महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाली शिवसेना के प्रवक्ता कृष्णा हेगड़े ने कहा है, “प्रकाश आंबेडकर के इस कदम पर कोई आश्चर्य नहीं है। इससे पहले वह ‘औरंगजेबी’ पार्टी AIMIM के सहयोगी रहे हैं। वे ऐसा ही करते रहे तो बचे हुए समर्थक भी उन्हें छोड़कर चले जाएँगें।” ज्ञात हो कि महाराष्ट्र की भाजपा नीत एकनाथ शिंदे सरकार ने औरंगाबाद का नाम बदलकर छत्रपति संभाजी नगर किया है।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch