Thursday , February 22 2024

Breaking: पीसीएस अधिकारी ज्‍योति मौर्य से अफेयर वाले मनीष दुबे पर गिरी गाज, सस्‍पेंड करने की सिफारिश

Breaking: पीसीएस अधिकारी ज्‍योति मौर्य से अफेयर वाले मनीष दुबे पर गिरी गाज, सस्‍पेंड करने की सिफारिशपीसीएस अधिकारी ज्‍योति मौर्य के साथ अफेयर को लेकर चर्चा में आए महोबा के होमगार्ड कमांडेंट मनीष दुबे पर गाज गिर गई है। जांच के बाद उन्‍हें सस्‍पेंड करने की सिफारिश कर दी गई है।

बता दें कि ज्‍योति मौर्य के पति आलोक कुमार ने पिछले दिनों आरोप लगाया था कि पीसीएस बनने के बाद उनकी पत्‍नी और मनीष दुबे के बीच अफेयर शुरू हो गया। इसी वजह से अब उनकी पत्‍नी उनके साथ नहीं रहना चाहती हैं। आलोक ने दोनों पर अपनी हत्‍या की साजिश का भी आरोप लगाया था। उनके अनुसार जब उनकी शादी हुई थी तो पत्‍नी सिर्फ इंटरमीडिएट तक पढ़ीं थी। आलोक ने न सिर्फ पत्‍नी को आगे पढ़ने के लिए प्रोत्‍साहित किया बल्कि इसके लिए काफी मेेेहनत कर परिवार भी संभाला। 2010 में दोनों की शादी हुई थी। दोनों की दो बच्चियां भी हैं। बकौल आलोक उन्‍होंने अपनी पत्‍नी को सिविल सेवा की तैयारी कराने के लिए कर्ज तक लिया।

2015 में ज्‍योति का सलेक्‍शन यूपीपीएससी की परीक्षा में हो गया। वह पीसीएस अधिकारी बन गईं। इसके कुछ समय बाद तक तो सब ठीक-ठाक चला लेकिन फिर ज्‍योति की जिंदगी में होमगार्ड कमांडेंट मनीष दुबे आ गए। आलोक का कहना है कि उन्‍होंने एक दिन मनीष को ज्‍यो‍ति‍ के सरकारी आवास पर देखा। दोनों के सम्‍बन्‍धों पर आपत्ति जताने पर दोनों भड़क गए। इसके बाद से ही ज्‍योति और आलोक के रिश्‍ते खराब हो गए।

ज्‍योति ने आलोक के खिलाफ प्रयागराज के धूमनगंज थाने में दहेज उत्‍पीड़न का केस भी दर्ज करा रखा है जिसकी जांच चल रही है। इसके अलावा ज्‍योति की ओर से प्रयागराज की पारिवारिक अदालत में तलाक का मुुुुकदमा भी दर्ज कराया गया है। मंगलवार को इस मामले में सुनवाई थी जहां आलोक अपना पक्ष रखने पहुंचे थे लेकिन ज्‍योति नहीं आईं। इस बीच मंगलवार को ही खबर आई कि आलोक के आरोपों पर जांच में मनीष दुबे के खिलाफ कई बातें आई हैं और उन पर गाज गिर सकती है। बुधवार को आखि‍रकार मनीष को सस्‍पेंड कर दिया गया।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch