Thursday , February 22 2024

हाथ में तलवार, ताबड़तोड़ वार… चंद मिनटों में पुराने CEO और MD की हत्या कर बेंगलुरु को थर्रा देने वाले फेलिक्स की कहानी

बेंगलुरु डबल मर्डर के आरोपी (फाइल फोटो)बेंगलुरु में मंगलवार को एक ऐसी घटना हुई, जिसने पूरे देश को चौंका दिया. यहां एक कर्मचारी ने दो अन्य साथियों के साथ मिलकर अपनी पुरानी टेक कंपनी के सीईओ और एमडी की तलवार से ताबड़तोड़ हमले कर सरेआम हत्या कर दी थी. कंपनी के कैंपस में हुई यह वारदात पूरे बेंगलुरु में आग की तरह फैल गई और हड़कंप मच गया.

आरोपियों ने मंगलवार को एक टेक कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर और मुख्य कार्यकारी अधिकारी की हत्या कर दी. उनकी पहचान फणींद्र सुब्रमण्यम और वीनू कुमार के रूप में हुई है. इस वारदात के कुछ घंटे बाद ही तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया. बेंगलुरु पुलिस ने तुमकुरु के पास कुनिगल से तीनों को पकड़ा.

एरोनिक्स कंपनी में काम कर चुका था फेलिक्स

पुलिस ने इंडिया टुडे को बताया था कि आरोपी फेलिक्स बेंगलुरु की टेक कंपनी एरोनिक्स मीडिया प्राइवेट लिमिटेड में पहले ही काम कर चुका था और उसने कंपनी से इस्तीफा दे दिया था, जिसके बाद अपनी खुद की कंपनी बनाई थी. सूत्रों के मुताबिक, फणींद्र उनकी नई कंपनी को चलाने में अडंगा लगा रहे थे, जिसकी वजह से उन्होंने इस वारदात को अंजाम दिया.

फणींद्र और वीनू की कंपनी 

फणींद्र और वीनू की कंपनी एरोनिक्स थी, जो इंटरनेट सेवाएं प्रदान करने का काम करती थी. उनकी हत्या को शबरीश ने अंजाम दिया है, जो खुद को फेलिक्स कहता है. वो कंपनी के दोनों अधिकारियों के प्रति अपनी दुश्मनी मानता था क्योंकि उन्होंने फेलिक्स की कंपनी के कस्टमर्स को जुटाने में अडंगा लगाया था.

फेलिक्स ने घटना से पहले लिखी थी पोस्ट

इस वारदात से पहले फेलिक्स ने एक वाट्सएप पोस्ट लिखा था कि वह केवल बुरे लोगों को चोट पहुंचाता है. हो सकता है कि उसने ये पोस्ट फणींद्र को लेकर लिखी हो, जो फेलिक्स को कंपनी चलाने में दिक्कतें पैदा कर रहा था. दरअसल फेलिक्स ने इसी तरह की कंपनी शुरू की थी, जिसमें वह पहले काम कर चुका था. फेलिक्स ने हत्या से पहले लिखा था, “लोग हमेशा चापलूस और धोखेबाज़ होते हैं. इसलिए मैंने हमेशा बुरे लोगों को चोट पहुंचाई है. मैंने कभी भी किसी अच्छे लोगों को चोट नहीं पहुंचाई है.”

कैसे दिया गया वारदात को अंजाम 

बताया जा रहा है कि ये तीनों मंगलवार दोपहर करीब तीन बजे फणींद्र के दफ्तर पहुंचे थे. तब वो लंच के लिए बाहर गए हुए थे और करीब चार बजे वापस आए, जिसके बाद उनके बीच कुछ कहासुनी हुई और नाराज फेलिक्स ने फणींद्र पर ताबड़तोड़ तलवार से हमला कर दिया. बीच-बचाव में वीनू कुमार पर बाद में हमला किया गया. वे जान बचाने के लिए दफ्तर से भागने लगे, लेकिन फेलिक्स ने घेरकर दोनों को मौत के घाट उतार दिया.

CEO की हत्या का इरादा नहीं था: आरोपी 

पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने कहा कि उनका इरादा सीईओ वीनू कुमार की हत्या का नहीं था. हालांकि उन्होंने फणींद्र पर हमले को रोकने की कोशिश की थी. वीनू केरल के रहने वाले थे, जबकि फणींद्र सुब्रमण्यम केआर पुरा में रहते थे. मालूम हो कि एरोनिक्स मीडिया प्राइवेट लिमिटेड एक प्राइवेट कंपनी है, जो 7 नवंबर 2022 को इनकॉर्पोरेट हुई थी. बेंगलुरु में इसका रजिस्टर्ड ऑफिस है.

पुलिस ने क्या कहा था? 

इस घटना के बाद नॉर्थ ईस्ट बेंगलुरु के डीसीपी लक्ष्मी प्रसाद ने कहा कि एरोनिक्स इंटरनेट कंपनी के एमडी फणींद्र सुब्रमण्यम और सीईओ वीनू कुमार की अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई. हमलावर फरार हो गया. पुलिस आरोपी फेलिक्स की पहचान के लिए हुलिया बना रही है. हत्या का आरोपी फेलिक्स टिक टॉक और रील्स वीडियो बनाने के लिए काफी मशहूर है. हालांकि अब तीनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch