Monday , June 17 2024

‘बुलडोजर का विरोधी हूं, घर बड़ी मुश्किल से बनता है…’, देवरिया हत्याकांड मामले में BJP सांसद बृजभूषण शरण सिंह का बड़ा बयान

बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह (फ़ाइल फ़ोटो) बस्ती/लखनऊ। देवरिया हत्याकांड मामले में गोंडा के कैसरगंज सीट से बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने बड़ा बयान दिया है. बृजभूषण सिंह ने कहा कि देवरिया की घटना कोई छोटी-मोटी घटना नहीं है. मेरे ख्याल से पूर्वांचल के इतिहास में यह अबतक की सबसे बड़ी घटना है. उन्होंने कहा कि इस पूरी वारदात में सिर्फ और सिर्फ प्रशासन की लापरवाही है. इसके साथ ही बीजेपी सांसद ने यूपी सरकार के बुलडोजर एक्शन पर सवालिया निशाना खड़ा कर दिया.

दरअसल, बृजभूषण शरण सिंह आज बस्ती दौरे पर पहुंचे. यहां पर समर्थकों ने उनका जोरदार स्वागत किया. स्वागत कार्यक्रम के बाद बृजभूषण शरण सिंह पत्रकारों से मुखातिब हुए. इस दौरान उन्होंने योगी सरकार द्वारा माफियाओं, अपराधियों के ऊपर चलाए जा रहे बुलडोजर की कार्रवाई पर सवालिया निशान खड़ा कर दिया.

यह कोई छोटी-मोटी घटना नहीं है

बीजेपी सांसद बृजभूषण सिंह ने देवरिया में हुए नरसंहार पर कहा कि यह कोई छोटी-मोटी घटना नहीं है. मेरे ख्याल से पूर्वांचल की सबसे बड़ी घटना है. इसमें प्रशासन की लापरवाही है, जिस वजह से यह दुखद घटना हुई. क्योंकि राजस्व मामलों के निपटारे में प्रशासनिक लेट लतीफी होती है, जिस वजह से छोटे से छोटे प्रकरण कई सालों तक लटके रहते हैं. यह घटना भी इस लेट लतीफी का परिणाम है.

इस बीच देवरिया में मृतकों के घर पहुंचे समाजवादी पार्टी के डेलिगेशन के हत्याकांड की जांच CBI से कराने की मांग है. जब बृजभूषण सिंह इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा- सीबीआई जांच प्रकरण लटकाने का तरीका है. इस कांड में सब कुछ शीशे की तरह साफ है. जहां तक मेरा मानना है मुझे नहीं लगता कि CBI को इस मामले की जांच करनी चाहिए. पुलिस की जांच ही काफी है.

‘बुलडोजर वाली राजनीति का विरोधी हूं’

इसके बाद योगी सरकार द्वारा अपराधियों पर की जा रही बुलडोजर वाली कार्रवाई के सवाल पर बीजेपी सांसद ने कहा- मैं तो शुरू से ही बुलडोजर वाली राजनीति का विरोधी हूं. क्योंकि घर बड़ी ही मुश्किल से बनता है. इसपर राजनीति नहीं होनी चाहिए. हां, दोषियों पर कड़ी कार्रवाई जरूर होनी चाहिए.

देवरिया कांड पर हो रही है सियासत 

गौरतलब है कि देवरिया के फतेहपुर गांव में 2 अक्टूबर को जमीनी विवाद में 6 लोगों की हत्या हुई थी. इस मसले पर जमकर राजनीति हो रही है. मृतक प्रेमचंद यादव के मकान पर बुलडोजर की कार्रवाई की आशंका जताई जा रही है. सपा और बीजेपी नेता आमने-सामने हैं. गांव छावनी में तब्दील हो चुका है. फिलहाल, अब तक 20 से ज्यादा हत्यारोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch