Monday , June 17 2024

यूपी के 35 जिलों में इन दो दिन बंद रहेंगे स्कूल, जानें क्या है वजह?

28 और 29 अक्टूबर को बंद रहेंगे यूपी के स्कूल (सांकेतिक तस्वीर)लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने 35 अलग-अलग जिलों में स्कूलों में दो दिन की छुट्टी की घोषणा की है. 28 और 29 अक्टूबर को स्कूल बंद रहने के साथ-साथ यूपी के किसी भी विश्वविद्यालय या कॉलेज में कोई एकेडमिक एग्जाम आयोजित नहीं किया जाएगा.

दरअसल, 28 और 29 अक्टूबर को राज्य में उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UPSSSC) द्वारा यूपी प्रीलिमिनरी एलिजिबिलिटी टेस्ट (UP PET) 2023 आयोजित किया जाएगा. इस परीक्षा में करीब 20 लाख उम्मीदवारों के उपस्थित होने की उम्मीद है. राज्य सरकार ने इन दो दिनों में किसी भी कॉलेज या विश्वविद्यालय या अन्य उच्च शिक्षण संस्थान में कोई अन्य परीक्षा आयोजित करने से मना किया है.

स्कूलों को बंद रखने की वजह क्या है?
यूपी पीईटी परीक्षा 2023 में उपस्थित होने वाले उम्मीदवारों के लिए 35 जिलों के स्कूल-कॉलेजों में एग्जाम सेंटर बनाए गए हैं. इसी के मद्देनजर स्कूलों में छुट्टी की घोषणा की गई है. सरकार द्वारा जारी निर्देश के अनुसार, यूपी पीईटी परीक्षा में सभी उम्मीदवार बैठ सकें इसलिए इन दो दिनों (28 और 29 अक्टूबर) में कोई अन्य परीक्षा आयोजित नहीं की जाएगी. ताकि पीईटी परीक्षा में बैठने वाला उम्मीदवार किसी अन्य परीक्षा से वंचित न रह जाए.

कौन दे सकता है यूपी पीईटी?
मान्यता प्राप्त से 10वीं (हाई स्कूल) परीक्षा पास उम्मीदवार इस परीक्षा (UPSSSC PET 2023) दे सकते हैं. वहीं अगर आयु सीमा की बात करें तो योग्य उम्मीदवारों की कम से कम उम्र 01 जुलाई 2022 को 18 वर्ष और अधिकतम 40 वर्ष तक होनी चाहिए. हालांकि आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को सरकारी मानदंड के अनुसार आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को अधिकतम आयु सीमा में छूट दी जाएगी. अधिक जानकारी के लिए नोटिफिकेशन को ध्यान से पढ़ें.

यूपी पीईटी एग्जाम पैटर्न
यूपी प्राइमरी एलिजिबिलिटी टेस्ट (PET) ऑफलाइन मोड में आयोजित किया जाता है जिसमें ऑब्जेक्टिव टाइप क्वेश्चन पूछे जाते हैं. परीक्षा में 10वीं और 12वीं कक्षा के 100 अंकों के करीब 100 प्रश्न होंगे और परीक्षा की अवधि दो घंटे की होगी. प्रत्येक गलत उत्तर देने पर लिए 0.25 मार्क्स की नेगेटिव मार्किंग भी है.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch