Wednesday , February 28 2024

सिंधी समाज ने बेसहारा और श्रमिकों को ठंड से राहत देने के लिए किया रैनबसेरे की स्थापना

आईना टीम ने इस पुनीत कार्य मे किया पूर्ण सहभगिता का ऐलान

लखनऊ। ऑल इंडिया न्यूज़ पेपर एसोसिएशन, आईना द्वारा आलमबाग क्षेत्र के अवध चौराहे,नाहरिया पर संत कँवर राम सेवा मण्डल द्वारा विगत 11 वर्षों से निरंतर गरीबों बेसहारा और श्रमिकों को ठंड से राहत दिलाने और पाले, कोहरे से बचाने के लिए रैन बसेरे की स्थापना के मौके पर इस पुनीत कार्य मे पूरे सहयोग करने की बात कही गई है।
रेन बसेरा के 11 वर्ष पूर्ण होने के इस कार्यक्रम का उद्घाटन केंद्रीय मंत्री कौशल किशोर, लखनऊ की मेयर सुषमा खर्कवाल, पूर्व मेयर संयुक्ता भाटिया, साई हरीश लाल, शिव शांति संत आशुदा राम आश्रम, पूर्व विधायक सुरेश चंद तिवारी, उत्तर प्रदेश सिंधी अकादमी के पूर्व उपाध्यक्ष नानक चंद लखमानी, सिंधी समाज के अध्यक्ष मुरलीधर आहूजा आईना के राष्ट्रीय संयोजक संरक्षक ‌वरिष्ठ पत्रकार मनोज मिश्रा , आईना के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय वर्मा , प्रदेश अध्यक्ष परमजीत सिंह, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डीपी शुक्ला द्वारा किया गया।
संत कँवर राम सेवा मण्डल के अध्यक्ष अमर अठवानी ने जानकारी दी की ये सेवा लखनऊ में सिंधी समाज द्वारा की जाने वाली उत्कृष्ट सेवाओं में से एक है.
संस्था के सदस्य मनोज पंजाबी ने जानकारी दी की उक्त सेवा के शुभारम्भ के उपलक्ष्य में सिंधी समाज के श्री नानक चंद लखमानी, मोहन दास लधानी, मुरलीधर आहूजा, अशोक मोतियानी, तरुण संगवानी, संत राम चाँदवानी, दर्पण लखमानी, अशोक चाँदवानी, रतन मेघानी, रमेश मलानी समेत सिंधी समाज के कई गण मान्य भारतीय पत्रकार एवं मानव अधिकार परिषद के जे बी सिंह और आल इंडिया न्यूज़ पेपर एसोसिएशन,आईना की पूरी टीम के लोग उपस्थित रहे ।
संस्था के मीडिया प्रभारी हेमंत चंदानी ने जानकारी दी की उक्त रैन बसेरे में लगभग 300 लोगो के सयन का इंतज़ाम प्रति दिन किया जाता है। इसके अलावा विश्राम कर रहे लोंगो के लिए अलाव भी जलाया जाता है, वहां सयन कर रहे सभी श्रमिकों गरीबों को भोजन की व्यवस्था भी पूर्ण रूप से की जाती है । संस्था विशेष रूप से ध्यान रखती है की कोई भी भूखा ना सोये.।
सदस्य दर्पण लखमानी, प्रीतम वलेचा,विनय मालानी वीर चंदानी, चिराग ढींगरा ने सभी आये हुए लोंगो का स्वागत अंग वस्त्र व स्मृति चिन्ह देकर किया.।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch