Wednesday , February 28 2024

जिस थाने का हिस्ट्रीशीटर उसी थाने में तैनात है होमगार्ड बनकर

उत्तर प्रदेश के देवरिया ज़िला के पुलिस विभाग में एक बड़ा अजीबोग़रीब मामला सामने आया है, जिसमें एक होमगार्ड जो कई गंभीर अपराधों का आरोपी व साथ में हिस्ट्रीशीटर है, वह वर्षों से डायल 112 की गाड़ी चला रहा था और इसकी जानकारी पुलिस को ही नहीं थी।इस होमगार्ड का नाम कमलेश यादव है, जो देवरिया जिले के बरहज थाना क्षेत्र के करजहां गांव का रहने वाला है। वह 2004 में होमगार्ड विभाग में भर्ती हुआ था और उसके बाद उसने डायल 112 की गाड़ी चलाना शुरू कर दिया था।

कमलेश बरहज थाने का हिस्ट्रीशीटर बदमाश भी था, जिसके खिलाफ 2005-06 में जनपद के भलवनी और बरहज थानों में हत्या, अपहरण, लूटपाट आदि के कई केस दर्ज थे। वह इन केसों के चलते जेल भी गया था और 2006 में पुलिस ने उसका हिस्ट्रीशीट भी खोल दिया था।परन्तु इसके बावजूद वह अपनी नौकरी लगातार करता रहा और पुलिस की नजर से बचता रहा। वह जिस बरहज थाने का हिस्ट्रीशीटर था, उसी थाने की 112 नंबर की गाड़ी चलाता था। इस बात का पता वहां तैनात रहे SHO और संबंधित अधिकारियों को आज तक नहीं लग पाया था

इस मामले का पता तब चला, जब SP संकल्प शर्मा ने हाल ही में अपराधियों का फिजिकल वेरिफिकेशन कराने का आदेश दिया। तब पता चला कि कमलेश यादव एक हिस्ट्रीशीटर है और वह 112 की गाड़ी चला रहा है। फ़िलहाल कमलेश यादव को तत्काल प्रभाव से 112 से हटा दिया। और उसके खिलाफ होमगार्ड कमांडेंट को लिखा है और विभागीय कार्रवाई के लिए कहा। इस मामले में पुलिस विभाग में हड़कंप मचा हुआ है

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch