Sunday , February 25 2024

चाय की प्याली में तूफान; जब सुप्रीम कोर्ट ने LG को दी नसीहत और फिर केजरीवाल सरकार को चेतावनी

चाय की प्याली में तूफान; जब सुप्रीम कोर्ट ने LG को दी नसीहत और फिर केजरीवाल सरकार को चेतावनीदिल्ली-सरकार और एलजी के बीच एक के बाद एक कई कानूनी विवाद सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचे हैं। शुक्रवार को ‘फरिश्ते योजना’ से जुड़ी अरविंद केजरीवाल सरकार की याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने एलजी को नसीहत दी कि वे हर मुद्दो को प्रतिष्ठा का सवाल ना बनाएं। कोर्ट ने एलजी का जवाब सुनने के बाद उनसे हलफनामा मांगा और कहा कि उनकी बात सच हुई तो आम आदमी पार्टी सरकार पर भारी जुर्माना लगाया जाएगा।

नोटिस का जवाब देने के लिए एलजी की ओर से अडिशनल सॉलिसिटर जनरल  संजय जैन पेश हुए। उन्होंने बीआर गवई और संदीप मेहता की बेंच को बताया कि योजना में एलजी की कोई भूमिका नहीं है। इसका संचालन एक सोसायटी के माध्यम से किया जाता है जिसके मुखिया दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री हैं। सरकार और सोसायटी की बैठक के बाद फंड जारी हो चुकी है। उन्होंने कहा कि एलजी को बेवजह इसमें घसीटा जा रहा है।

इस पर जैन ने कहा कि ‘किसी ने भी किसी को धोखा नहीं दिया है और उम्मीद की है कि याचिकाकर्ता ने इस अदालत के मंच का इस्तेमाल किसी चीज को उत्तेजित करने के लिए किया है। यह चाय के प्याले में तूफान का एक क्लासिक उदाहरण है।’ वरिष्ठ अधिवक्ता ने पीठ से कहा कि ‘यह योजना एक सोसायटी द्वारा संचालित थी और सोसायटी की हाल ही में 2 जनवरी को हुई बैठक में धनराशि जारी करने का निर्णय लिया है, जिससे सभी लंबित दावों को जारी किया जाएगा।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch