Sunday , February 25 2024

‘मुझे नहीं, लालू यादव को बनाएं संयोजक, क्योंकि…’, INDIA गठबंधन के प्रस्ताव पर बोले नीतीश

नीतीश कुमारविपक्षी INDIA गठबंधन की शनिवार को एक वर्चुअल बैठक हुई. इस बैठक में 10 दलों के नेताओं ने शिरकत की. कहा जा रहा है कि इस बैठक में नीतीश कुमार को गठबंधन का संयोजक बनाए जाने का प्रस्ताव रखा. लेकिन खुद नीतीश कुमार ने इसके लिए लालू यादव के नाम की पैरवी की.

नीतीश कुमार ने कहा कि लालू यादव जी सबसे वरिष्ठ हैं. उन्हें गठबंधन का संयोजक बनाया जाना चाहिए. सूत्रों के मुताबिक, नीतीश कुमार ने कहा कि कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी है इसलिए गठबंधन का चेयरमैन कांग्रेस के नेता को बनाना चाहिए. मैं संयोजक नहीं बनना चाहता हूं. मैं गठबंधन के बिना पद के लिए काम करूंगा.

बता दें कि सूत्रों के हवाले से खबर है कि इंडिया ब्लॉक की बैठक में सीताराम येचुरी, सोनिया गांधी और ब्लॉक के अन्य नेताओं ने बैठक में नीतीश कुमार के नाम का प्रस्ताव रखा था.

जेडीयू की ओर से पार्टी के अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, पूर्व अध्यक्ष ललन सिंह और संजय झा शामिल हुए. जेडीयू नेता संजय झा ने कहा कि वर्चुअल मीटिंग के दौरान कांग्रेस ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को संयोजक बनाने का प्रस्ताव रखा. इस पर बिहार के मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस को ही इंडिया ब्लॉक का अध्यक्ष बनना चाहिए.

संजय झा के मुताबिक नीतीश कुमार ने संयोजक बनने को लेकर अभी सहमति नहीं दी है. नीतीश ने मीटिंग में कहा, ‘मेरी किसी पद में कोई दिलचस्पी नहीं है. हम चाहते हैं कि गठबंधन जमीन पर आगे बढ़े. जरूरी है कि गठबंधन में शामिल दलों में एकजुटता बनी रहे’

वहीं, इस दौरान नीतीश कुमार ने कहा कि सीट शेयरिंग सबसे बड़ी चुनौती है. नीतीश ने बैठक में बड़े दलों के नेताओं के शामिल नहीं होने पर कहा कि यह अच्छा संकेत नहीं है.

बता दें कि ममता बनर्जी पूर्व निर्धारित कार्यक्रमों का हवाला देकर बैठक में शामिल नहीं हुईं. हालांकि, सूत्रों के मुताबिक मीटिंग में नहीं शामिल होने के पीछे टीएमसी सुप्रीमो की नाराजगी बताई जा रही है. क्योंकि वह नीतीश को इंडिया ब्लॉक का संयोजक बनाए जाने पर सहमत नहीं हैं. बैठक शुरू होने से पहले कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने ममता पर तीखा जुबानी हमला भी बोला.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch