Sunday , July 14 2024

दिल्ली: यमुना के उफान में डूबे चार बच्चे, दो शव बरामद, रेस्क्यू जारी

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में अलीपुर के पास यमुना नदी में चार बच्चों के डूबने की खबर है. फिलहाल दो के शव नदी से निकाले जा चुके हैं और अभी दो की तलाश जारी है. मौके पर पहुंचे प्रशासनिक अधिकारी और गोताखोरों की टीम बचाव कार्य में जुटी है.

ANI

@ANI

Delhi: Four people drown in Yamuna river near Alipur. Bodies of two people have been recovered, search for others is underway

गौरतलब है कि दिल्ली के अलीपुर के पल्ला गांव के पास 7 लड़के हरियाणा से यमुना में नहाने के लिए आए थें.  सभी लड़के नौवीं क्लास के पढ़ने वाले हैं और छुट्टी के दिन सुबह सुबह यमुना में नहाने आए थें. सबसे पहले ये दिल्ली और हरियाणा के यमुना के जीरो पॉइंट पर पहुंचे वहां पर पानी का बहाव तेज देख इन्होंने नहाने का मन बदल लिया. और अलीपुर के पल्ला गांव के पास आकर यमुना में नहाने लगे. जिसमें से चार लड़के यमुना में बह गए चारों लड़के नाबालिक हैं.

डूबने वाले लड़कों में तीन लड़के हरियाणा के गांव शेरशाह और एक लड़का गांव लख्मी प्याऊ का रहने वाला बताया जा रहा है. इनमें  आदित्य (14) ,  अंकित (13),  ललित (13) और नितिन (12) शामिल है.  अंकित और आदित्य सगे भाई हैं.  अंकित का शव मिल गया है जबकि आदित्य समेत एक अन्य के शव की तालाश में गोताखोर बोट क्लब के कर्मचारी दमकल विभाग और दिल्ली पुलिस के जवान जुटे हुए हैं.

बता दें कि उत्तराखंड समेत तमाम पहाड़ी इलाकों में भारी बारिश से यमुना का जलस्तर इस वक्त बढ़ा हुआ. पिछले दिनों दिल्ली में यमुना खतरे के निशान से ऊपर बह रही थीं. यमुना के जलस्तर के खतरनाक स्तर पर पहुंच जाने के बाद दिल्ली के निचले इलाकों को खाली कराया जा चुका है और लोगों को सुरक्षित स्थानों पर राहत कैंपों में पहुंचाया गया है. हरियाणा के हथिनीकुंड बैराज से लगातार पानी छोड़ा जा रहा है, जिसके चलते यमुना का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है.

उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों भारी बारिश के कारण यमुना के जलस्तर बढ़ जाने से प्रशासन ने लोगों को नदी के पास न जाने की हिदायत दी थी. वहीं 31 जुलाई दो अलग-अलग जगहों पर दो मासूम समेत तीन लोगों की पानी में नहाने के दौरान डूबकर मौत हो गई. इसमें राजघाट के पास एक 11 वर्षीय बच्ची और एक युवक की मौत हुई थी, जबकी एक 7 वर्षीय राजा बाल-बाल बच गया था. वहीं 23 वर्षीय सुरेश कुमार खूजरी पुश्ते के पास बने गढ्ढों में नाहने के लिए चला गया.  वहां यमुना का बहाव तेज होने के चलते सुरेश बह गया और एक गढ्ढे में जाकर फंस गया जिससे उसकी मौत हो गई थी.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About admin