Sunday , July 21 2024

महाराजा सुहेलदेव के नाम के प्रति सम्मान व्यक्त करना हर भारतीय का दायित्व : योगी आदित्यनाथ

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भारत की अखण्डता को अक्षुण्ण बनाये रखने का काम महाराजा सुहेलदेव ने किया, इसलिए उनके नाम के प्रति सम्मान व्यक्त करना हर भारतीय का दायित्व है.मुख्यमंत्री ने भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा द्वारा आयोजित सामाजिक प्रतिनिधि बैठक के दूसरे दिन प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए महाराजा सुहेलदेव का उल्लेख किया.

योगी ने कहा, ‘इन महापुरूषों ने देश-धर्म की रक्षा के लिए जो अपना योगदान दिया, वह वर्तमान और आने वाली पीढ़ी के लिए अनुकरणीय है. भारत की अखण्डता को अक्षुण बनाये रखने का काम जिस महापुरूष ने किया था, उस महापुरूष का नाम है महाराजा सुहेलदेव. इसलिए उनके नाम के प्रति सम्मान व्यक्त करना हर उस भारतीय का दायित्व बनता है जिसे भारत की एकता और अखण्डता और सुरक्षा प्यारी है.’

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘उस काल खण्ड मेंएक बहुत बड़ा कार्य हुआ था. लभगभ डेढ़ सौ वर्षों तक कोई विदेशी आक्रान्ता भारत पर हमला करने का साहस नहीं जुटा पाया था. लेकिन इतिहास के पन्नों में महाराज सुहेलदेव का नाम नहीं आने दिया गया. उस समय षड्यन्त्रों का परिणाम रहा कि हम अपने महापुरूषों को भूल गये.”

बहराइच के चितौरा का जिक्र करते हुए योगी ने कहा कि चितौर की माटी आज भी राजा सुहेलदेव के शौर्य और पराक्रम की गाथा गाती है. लेकिन इस गाथा का देश स्मरण कर सके, इसका प्रयास नहीं हुआ. यह प्रयास तब हुआ जब भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह उस स्थान पर जाकर राजा सुहेलदेव की प्रतिमा के अनावरण कार्यक्रम में सम्मलित हुए.राष्ट्रीय स्तर का कार्यक्रम बीजेपी के द्वारा ही किया गया.

बीजेपी की ओर से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक मुख्यमंत्री ने महाराजा सुहेलदेव को अपना आदर्श मानने वाले लोगों को सचेत करते हुए कहा कि जो लोग इस देश के अंदर महमूद गजनवी और मोहम्मद गौरी को अपना आदर्श मानते हैं, उन्हें पहचानना होगा. हमें तय करना होगा कि इस देश की व्यवस्था राजा सुहेलदेव की तर्ज पर संचालित होगी, मोहम्मद गौरी-मोहम्मद तुगलक की तर्ज पर नहीं.

उन्होंने कहा कि चितौरा नामक स्थान पर एक भव्य स्मारक का निर्माण होना चाहिए. एक ऐसा स्मारक होना चाहिए जिससे भारत की भावी पीढ़ी प्रेरणा लेती रहे. योगी ने कहा कि महाराजा सुहेलदेव राष्ट्रीय महापुरूष थे. उनका योगदान पूरे समाज के लिए था, पूरे राष्ट्र के लिए था और इसलिए उन महापुरूष के प्रति सम्मान व्यक्त करना हम सबका दायित्व बनता है. इसके लिए भव्य स्मारक निर्माण के लिए सरकार पहल करेगी.

उल्लेखनीय है कि सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी सत्ता में बीजेपी की साझीदार है. मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया है. वास्तव में यह एक बड़ा सम्मान है इस देश की पिछड़ी और अति पिछड़ी जाति के करोड़ों लोगों के लिए जो अब तक अपने हक के लिए अपने संवैधानिक अधिकार के लिए संघर्ष तो करते थे, लेकिन कांग्रेस और उसकी सहयोगी सपा-बसपा ने उन्हें आगे बढ़ाने का कार्य नहीं किया.

उन्होंने कहा कि आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया जाना पिछड़ों और अति पिछड़ों की बहुत बड़ी जीत है. हम सबको प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आभार व्यक्त करना चाहिए जिन्होंने इस देश के गरीबों, वंचितों, अति पिछड़ों को उनका हक दिलाने के लिए अभूतपूर्व कार्य किया है.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About admin