Sunday , July 21 2024

एरो इंडिया शो बेंगलुरु से लखनऊ शिफ्ट क्यों? कुमारस्वामी ने उठाए सवाल

नई दिल्ली। एरो इंडिया शो के बेंगलुरु से लखनऊ शिफ्ट होने की संभावनाओं पर सियासी बयानबाजी शुरू हो गई है. कर्नाटक के नेता केंद्र सरकार ऐसे किसी भी कदम की मुखालफत कर रहे हैं और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण से सवाल कर रहे हैं. इस कड़ी में अब राज्य के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने भी बीजेपी से जवाब मांगा है.

कुमारस्वामी ने कहा, ‘कर्नाटक में बीजेपी के हमारे मित्र जवाब दें. जब रक्षा मंत्री यहां आई थीं, तो हमने उनसे अपील की थी कि बेंगलुरु एरो शो के लिए सबसे बेहतर जगह है. फिर भी न जाने क्यों केंद्र सरकार ऐसा कर रही है.’

बता दें कि एरो इंडिया का यह कार्यक्रम बेंगलुरु के येलाहांका में होता रहा है. लेकिन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगामी कार्यक्रम राजधानी लखनऊ में कराने की अपील की है.

11 अगस्त को यूपी सीएम कार्यालय की तरफ से ट्वीट किया गया था, जिसमें रक्षा मंत्री से एरो इंडिया के लिए अपील की गई थी. ट्वीट में लिखा गया था, ‘रक्षा मंत्री जी से अनुरोध है कि नवंबर में देश का सबसे बड़ा एरो इंडिया शो का आयोजन होगा, उसे उत्तर प्रदेश में करें.’

योगी आदित्यनाथ की अपील के बाद एरो इंडिया शो के शिफ्ट होने की बात लगभग तय नजर आ रही है. जिसे लेकर कर्नाटक में जमकर बयानबाजी हो रही है. हालांकि, इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है.

कुमारस्वामी से पहले पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने भी सरकार के इस कदम पर सवाल उठाए थे. उन्होंने रविवार को ट्वीट कर कहा था कि पहले ही बीजेपी के शासन में कई रक्षा प्रोजेक्ट राज्य से बाहर जा चुके हैं, ऐसे में एरो इंडिया का जाना जख्म को गहरा करने जैसा होगा. उन्होंने कर्नाटक से राज्यसभा सांसद और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण को संबोधित करते हुए इसे विश्वासघात करार दिया है.

कांग्रेस ने लिखा था पत्र

कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष दिनेश गुंडू राव ने बीते 6 अगस्त को रक्षा मंत्री को लिखे पत्र में एरो इंडिया को शिफ्ट न करने की मांग की थी. उन्होंने कहा था कि बेंगलुरु में 1996 से आयोजित हो रहा है और इससे न सिर्फ निवेश प्राप्त होता है, बल्कि रोजगार के अवसर भी पैदा होते हैं.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About admin