Sunday , April 14 2024

जम्मू-कश्मीर पुलिस कम दुश्मन नहीं, प्रोमोशन के लिए कुछ पुलिस वाले करते हैं निहत्थों का कत्ल: गुलाम नबी आजाद

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने जम्मू-कश्मीर पुलिस पर बड़ा आरोप लगाया है। कुपवाड़ा में एक रैली के दौरान गुलाम नबी आजाद ने कहा ‘’जम्मू-कश्मीर पुलिस भी कम दुश्मन नहीं है, उन्होंने भी कम ज्यादतियां नहीं की हैं, मैं सैल्यूट करता हूं उन पुलिस वालों को जिन्होंने अपनी जानें दीं, लेकिन उसमें भी कुछ नासूर ऐसे हैं जो अपनी प्रोमोशन के चक्कर में निहत्थे लोगों का कत्ल करते थे’’

गुलाम नबी आजाद ने जम्मू-कश्मीर के खराब हालात के लिए प्रधानमंत्री को जिम्मेदार बताया। आजाद ने कहा ‘’क्या वजह है कि 2014 तक हालात ठीक हो गए थे? क्या वजह है कि 2014 से लेकर आज तक हालात फिर 1990-91 की तरह हुए? उसके लिए अगर कोई एक आदमी जिम्मेदार है, इस देश का प्रधानमंत्री जिम्मेदार है।’’

ANI

@ANI

GN Azad,Congress in Kupwara: Vo(J&K Police) bhi kam dushman nahi hai. Unhone bhi kam zyadtiyaan nahi ki. Main salute karta hun unn police walon ko jinhone apni jaanein di, lekin usmein bhi kuch naasoor aise the jo apni promotion aur paise ke liye nihathe logon ka kathal karte the

ANI

@ANI

Ghulam Nabi Azad, Congress in Kupwara: Kya wajah hai ki 2014 tak haalaat thik hogaye the? Kya wajah hai ki 2014 se lekar aaj tak haalaat phir 1990-91 ki tarah hue? Uske liye agar koi ek aadmi zimmedaar hai, iss desh ka PM zimmedaar hai. #JammuAndKashmir

Twitter पर छबि देखें
322 लोग इस बारे में बात कर रहे हैं
गौरतलब है कि कांग्रेस पार्टी ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में कहा है कि वह जम्मू-कश्मीर में लगी संविधान की धारा 370 के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं करेगी। पार्टी ने यह भी कहा है कि आर्मड फोर्सेज स्पेशल पावर एक्ट (AFSPA) में भी संशोधन किया जाएगा। जम्मू-कश्मीर में AFSPA कानून लागू है जिससे सुरक्षा बलों को विशेश अधिकार मिले हुए हैं।
साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch