Tuesday , April 16 2024

अनुराग कश्यप को आलिया की मां ने दिया ट्रोल्स से निपटने का गुरुमंत्र, जानिए सोनी राजदान का नुस्खा!

फिल्ममेकर अनुराग कश्यप आए दिन सत्ता के खिलाफ बोलने और लिखने के लिए जाने जाते हैं. लेकिन अब सोशल मीडिया के ट्रोलिंग वाले दौर में उन्हें देश की सरकार के खिलाफ बोलना महंगा पड़ रहा है. वह हर कभी ट्रोल्स के निशाने पर आ जाते हैं. लेकिन इन ट्रोल्स से अब उन्हें दो चार नहीं होना होगा. क्योंकि आलिया भट्ट की मां एक्ट्रेस सोनी राजदान ने उन्हें इस समस्या से निपटने का गुरुमंत्र दे डाला है.

इन दिनों देश भर में चुनावी माहौल जोरों पर हैं. लोकसभा चुनावों की वोटिंग का पहला चरण कल निपट चुका है. लेकिन इस पहले चरण के पहले कुछ बॉलीवुड सेलेब्स ने सत्ताधारी पार्टी के खिलाफ बयान दिया था. इन लोगों में अनुराग भी शामिल थे. लेकिन इसके बाद अनुराग को सोशल मीडिया पर काफी ट्रोलिंग का सामना करना पड़ा.

इन ट्रोल्स के बारे में अनुराग कश्यप ने एक ट्वीट लिखकर कहा, “मैं ट्विटर पर आया तो बहुत सारे चौकीदार मुझे गालियां देने लगे और मेरे खिलाफ जहर उगलने लगे. क्या ये चौकीदार हमारी और हमारे देश की सुरक्षा करेंगे? असली चौकीदार की निगरानी कौन करेगा?”

Anurag Kashyap

@anuragkashyap72

I come on twitter and so many Chowkidars abusing and spewing venom. Really these Chowkidars will protect us and our country??? Who is gonna watch the Watchmen .

Soni Razdan

@Soni_Razdan

Anurag see my tweet on how to mute them. Such an easy thing to do.

74 people are talking about this

अनुराग के इस ट्वीट में झलक रहे इस दर्द को समझने में सोनी राजदान को देर नहीं लगी. बस फिर क्या था पोस्ट के कमेंट में आलिया की मां ने अनुराग को ट्रोल्स से निपटने का नुस्खा दे डाला. सोनी राजदान ने कहा, ‘अनुराग तुम मेरे उस ट्वीट को देखो जिससे इन ट्रोल्स को म्यूट किया जा सकता है. ये एक बेहद आसान तरीका है.’

नकल के आरोपों में फंसी 'न्यूटन' के सपोर्ट में आए फिल्मकार अनुराग कश्यप! कहा...

डायरेक्टर ने भी सोनी राजदान के गुरुमंत्र को तवज्जो देते हुए सोनी का रिप्लाई करते हुए उन्हें धन्यवाद दिया. अब देखना यह होगा कि सोनी राजदान की सलाह अनुराग के कितने काम आती है.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch