Monday , July 13 2020

जानिए कैसे 15 मिनट में महिला टीचर हुई आरोपों से मुक्त, बनाया था छात्र के साथ संबंध

एक 29 साल की शादीशुदा टीचर ने 16 साल के छात्र के साथ संबंध बनाए, लेकिन उन्हें बिना किसी सजा के छोड़ दिया गया. ऑस्ट्रेलिया के इस मामले को लेकर कई सवाल खड़े हो रहे हैं. फैसले के आलोचक ऑस्ट्रेलिया के पुराने कानून को इसके लिए जिम्मेदार ठहरा रहे हैं।

 

क्वीन्सलैंड के हाईस्कूल में पढ़ने वाले बच्चे के साथ संबंध बनाने वालीं 29 साल की साराह जॉय गुआजो को कोर्ट ने आपराधिक मामले में दोषी नहीं माना. क्वीन्सलैंड की जिला अदालत के एक जज ने 15 मिनट में ही टीचर को आरोपों से मुक्त कर दिया। असल में बचाव पक्ष के वकील ने तर्क दिया कि लड़के ने अपनी इच्छा से महिला के साथ संबंध बनाए थे.

 

नेशनल चाइल्ड सेक्शुअल असॉल्ट रिफॉर्म कमेटी के प्रोफेसर एन्ने कोसिन्स ने कहा कि ये मामला दिखाता है कि कानून में किस तरह की दिक्कतें हैं. पावर बैलेंस को नहीं देखा जा रहा. वहीं, एन्ने ने कहा कि न्यू साउथ वेल्स (अन्य राज्य) के नए कानून को देखा जाए तो ऐसी स्थिति में 16 से 18 साल के व्यक्ति के साथ संबंध बनाना गैरकानूनी होगा.

कोर्ट में जज को बताया गया था कि महिला टीचर ने छात्र को शराब पिलाए और उसके साथ संबंध बनाए. टीचर ने तब कहा था कि उनकी शादी में समस्याएं चल रही हैं

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति