Monday , January 24 2022

65 साल की राबिया का कोरोना से मौत: जहाँ गई थी CAA विरोध-प्रदर्शन में, वहाँ हिस्सा लेने वाले हर लोग खौफ में!

नई दिल्ली। कोरोना का कहर पूरे देश में जारी है। हर कोई इसकी रोकथाम के लिए तरह-तरह के उपाय कर रहा है। इसी बीच मध्य प्रदेश से एक खबर आई है, जहाँ 65 वर्षीय महिला की कोरोना की चपेट में आने से मौत हो गई। इसी के साथ मध्य प्रदेश में कोरोना से मौत का पहला मामला सामने आया है, जबकि भारत में इससे मौत का आँकड़ा 14 हो गया है। वहीं बताया जा रहा है कि कोरोना से मृतक 65 वर्षीय महिला ने मध्य प्रदेश में आयोजित सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में भाग लिया था। इस खबर के बाद से स्वास्थ्य विभाग में और उन लोगों में हड़कंप मच गया है, जिन्होंने सीएए विरोध के धरने में हिस्सा लिया था।

Gyani Guide@GuideGyani

I’ve just posted a new blog: इंदौर में 24 घंटे में 10 नए केस सामने आए; उज्जैन की जिस पॉजिटिव महिला की मौत हुई, उसके परिवार के 5 लोग भी संक्रमित पाए गएhttps://ift.tt/2WF3U6u  https://ift.tt/3akWp8L 

See Gyani Guide’s other Tweets

दरअसल मध्य प्रदेश में बुधवार को कोरोना पीड़ित उज्जैन के जानसापुरा निवासी 65 वर्षीय महिला ने इंदौर के एक अस्पताल दम तोड़ दिया। 22 मार्च को बीमार हुई महिला को शुरुआत में उज्जैन के एक धर्मार्थ अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहाँ उसकी हालत में सुधार नहीं होने पर इंदौर के सरकारी अस्पताल महाराजा यशवंतराव में भर्ती कराया गया, लेकिन महिला ने बुधवार शाम करीब 5.30 बजे दम तोड़ दिया।

जिलाधिकारी (इंदौर) लोकेश कुमार जाटव ने मीडिया को बताया कि महिला को कोरोना पॉजीटिव था। इसके साथ ही महिला मधुमेह और साँस जैसी गंभीर बीमारी से पीड़ित थी। शुरुआत में महिला को सर्दी और खाँसी के साथ साँस लेने में तकलीफ थी। लक्षणों को देखते हुए डॉक्टरों ने राबिया को इंदौर के एमवाई अस्पताल में भेज दिया, जहाँ हुई जाँच में उसे कोरोना पॉजीटिव पाया गया। हालाँकि मृतक महिला राबिया ने कोई विदेश की यात्रा नहीं की थी। हाँ, उसने उज्जैन में आयोजित सीएए विरोध में हिस्सा जरूर लिया था साथ ही इंदौर में एक शादी में भाग लिया था। इसके बाद उन लोगों में हड़कंप मच गया है, जिन लोगों ने सीएए विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया था या महिला से किसी न किसी रूप से करीब आए थे।

वहीं महिला की मौत के बाद प्रशासन ने उज्जैन और इंदौर शहर में कर्फ्यू लगा दिया है। साथ ही जहाँ महिला रहती थी, उसके निवास की सभी सीमाओं को सील कर दिया गया है। महिला की मौत के बाद स्वास्थ्य विभाग ने 40 लोगों की जाँच की है जो किसी न किसी तरह से महिला के संपर्क में आए थे। इस बीच महिला के 11 परिवार के सदस्यों की भी स्क्रीनिंग की गई, जिनमें से महिला की बहू और बेटे के साथ पाँच परिवार के सदस्य भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।

आपको बता दें कि इससे पहले मध्य प्रदेश के भोपाल निवासी एक पत्रकार की बेटी को कोरोना पॉजीटिव पाया गया। प्रोफेसर कॉलोनी निवासी पीड़ित लड़की के 55 वर्षीय पिता एक पत्रकार हैं, जिन्होंने पूर्व सीए कमलनाथ की आखिरी प्रेस कॉन्फेंस में हिस्सा लिया था। इस खुलासे के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद सभी लोगों को क्वारंटाइन किया गया है, इसमें पूर्व सीएम कमलनाथ भी शामिल हैं।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक मध्य प्रदेश में कोरोना से पहली मौत हुई है। साथ ही प्रदेश में इससे संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 20 हो गई है। इंदौर में दस, जबलपुर में छह, भोपाल में दो, ग्वालियर और शिवपुरी में एक-एक मरीज मिले हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, भारत में कोरोना के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 606 हो गई है, जिनमें 43 ऐसे मामले भी शामिल हैं, जो ठीक हो चुके हैं और 14 लोग ऐसे हैं, जो इसके संक्रमण में आने के कारण दम तोड़ चुके हैं। गौरतलब है कि कोरोना की रोकथाम के लिए केन्द्र सरकार ने भारत में 21 दिनों के लिए लॉकडाउन की घोषणा की है। साथ ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोगों से घरों से न निकलने की अपील की है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति