Sunday , May 29 2022

ओवैसी पर फायरिंग के दो घंटे के भीतर एक संदिग्ध गिरफ्तार: UP पुलिस की 5 टीमें दूसरे आरोपित की कर रही तलाश, सामने आई CCTV फुटेज

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) में प्रचार कर दिल्ली लौट रहे ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तिहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) पर हमले के एक संदिग्ध को पुलिस ने हिरासत में लिया है। संदिग्ध की पहचान सीसीटीवी फुटेज के आधार पर की गई है। ओवैसी ने बताया था कि उन पर दो लोगों ने चार राउंड फायरिंग की है।

हापुड़ के पुलिस अधीक्षक दीपक भुकर ने बताया, “असदुद्दीन ओवैसी की गाड़ी पर हमले के बाद पुलिस ने मौके पर तुरंत पहुंचकर मामले में संदिग्ध एक व्यक्ति को हिरासत में लिया है। हथियार भी बरामद किया गया है। उसका एक साथी भाग गया है, उसकी तलाश की जा रही है।”

इस गिरफ्तारी को लेकर मेरठ रेंज के आईजी प्रवीण कुमार ने कहा कि गिरफ्तारी सीसीटीवी फुटेज के आधार पर हुई है। इस मामले में सभी साक्ष्यों को जुटाने के साथ-साथ आगे की कानूनी कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि आरोपी से पूछताछ की जा रही है।

इस घटना पर ओवैसी ने कहा कि वे मोदी सरकार और राज्य सरकार, दोनों को कह रहे हैं कि इस मामले की स्वतंत्र जांच कराई जाए। ये कैसे हो सकता है कि एक सांसद पर 4 राउंड फायरिंग की जाए। उन्होंने इस मामले की स्वतंत्र जाँच चुनाव आयोग से भी कराने की माँग की है। बता दें कि पिलखुआ टोल के पास ओवैसी के काफिले पर हमला किया गया था।

फुटेज में दिख रहा है कि संदिग्ध व्यक्ति टोल पर खड़ी ओवैसी की गाड़ी के पास लाल रंग का टी-शर्ट पहने एक लड़का हाथ में कुछ लेकर गुजरता है। हमला करके भागने के दौरान एक हमलावर का पैर गाड़ी से कुचल जाता है और वह गिर जाता है। इसके बाद सामने से सफेट शर्ट में एक युवक आता है और वह ओवैसी की गाड़ी पर फायरिंग करता है। सीसीटीवी फुटेज में उसका चेहरा स्पष्ट नजर आ रहा है।

जी न्यूज के अनुसार, हमलावर शख्स ओवैसी के भाषणों के नाराज था, इसलिए उसने उन पर हमला किया था। ओवैसी ने कहा कि उनके विरोधियों ने उन पर हमले कराएँ हैं। यह विचारधारा को लेकर हमला किया गया है। ओवैसी ने कहा कि वे इस मामले को संसद में भी उठाएँगे। साथ ही उन्होंने चुनाव आयोग से भी इस मामले में जाँच कराने की माँग की है।

बता दें कि आज गुरुवार की शाम को ओवैसी पर अपने ऊपर हुए हमले को लेकर एक ट्वीट किया था। इस ट्वीट में उन्होंने कहा था, “कुछ देर पहले छिजारसी टोल गेट पर मेरी गाड़ी पर गोलियाँ चलाई गयी। 4 राउंड फ़ायर हुए। 3-4 लोग थे, सब के सब भाग गए और हथियार वहीं छोड़ गए। मेरी गाड़ी पंक्चर हो गयी, लेकिन मैं दूसरी गाड़ी में बैठ कर वहाँ से निकल गया। हम सब महफ़ूज़ हैं। अलहमदु’लिलाह।”

 

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति