Tuesday , August 16 2022

ED की महिला अफसर कर रहीं सोनिया से पूछताछ का नेतृत्व, तीन राउंड में होगी बात; क्या हैं इंतजाम

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी नेशनल हेराल्ड केस में पूछताछ के लिए ईडी के दफ्तर पहुंच गई हैं। उनके साथ प्रियंका गांधी भी दवाएं लेकर साथ गई हैं और ईडी के दफ्तर में ही एक दूसरे कमरे में मौजूद हैं। सूत्रों का कहना है कि सोनिया गांधी से पूछताछ की कमान भी महिला अफसर मोनिका शर्मा को सौंपी गई है। वह ईडी में अडिशनल डायरेक्टर के पद पर हैं। ईडी के सूत्रों का कहना है कि 75 वर्षीय सोनिया गांधी के स्वास्थ्य को देखते हुए दफ्तर में एंबुलेंस की व्यवस्था की गई है। इसीलिए प्रियंका गांधी को भी दफ्तर में रहने की परमिशन दी गई है और सोनिया गांधी दवाइयों एवं अन्य जरूरतों के लिए उनसे मुलाकात कर सकती हैं। यही नहीं यदि उन्हें आराम की जरूरत होगी तो उसके लिए भी मौका दिया जाएगा।

सोनिया गांधी ने ईडी से पूछताछ के लिए रखी हैं ये मांगे

कहा जा रहा है कि सोनिया गांधी ने ईडी से इस बात की परमिशन मांगी थी कि कांग्रेस नेता और उनकी बेटी प्रियंका गांधी भी दफ्तर में मौजूद रहें। इसके अलावा उन्होंने आग्रह किया है कि पूछताछ एक खुले और हवादार कमरे में ही की जाए। इसके अलावा पूछताछ करने वाले अधिकारियों का कोविड टेस्ट भी होना चाहिए। बता दें कि सोनिया गांधी हाल ही में कोरोना से संक्रमित हो गई थीं और कुछ दिन पहले ही उबरी हैं। नेशनल हेराल्ड केस में राहुल गांधी से भी ईडी ने लगातार 5 दिनों तक पूछताछ की थी। हालांकि कहा जा रहा है कि सोनिया गांधी से ज्यादा लंबे समय तक पूछताछ नहीं की जाएगी।

ईडी ने बताया- राहुल गांधी से क्यों लंबी चली थी पूछताछ 

ईडी के सूत्रों ने दावा किया है कि राहुल गांधी से पूछताछ में इसलिए ज्यादा वक्त लगा था क्योंकि उनके जवाब अलग-अलग थे। दरअसल पूछताछ के राउंड समाप्त होने के बाद राहुल गांधी से जब बयान पर साइन करने को कहा जाता था तो वह उसमें संशोधन करते थे। ऐसे में प्रक्रिया में समय लग जाता था। दरअसल राहुल गांधी और सोनिया गांधी की हिस्सेदारी वाली कंपनी यंग इंडियन की ओर से नेशनल हेराल्ड का संचालन करने वाली कंपनी एसोसिएटेड जर्नल्स का अधिग्रहण कर लिया गया था। इस मामले में कहा जा रहा है कि अधिग्रहण के जरिए नेशनल हेराल्ड की 800 करोड़ रुपये की संपत्ति को भी कब्जे में ले लिया गया।

सोनिया गांधी से तीन राउंड में पूछताछ, इन सवालों पर होगा जोर

प्रवर्तन निदेशालय के सूत्रों का कहना है कि सोनिया गांधी से तीन हिस्सों में पूछताछ की जा सकती है। हालांकि यह उतनी लंबी नहीं होगी, जितनी राहुल गांधी से थी। पहले पार्ट में सोनिया गांधी से उनकी शेयर होल्डिंग और टैक्स अदायगी के बारे में पूछा जाएगा। इसके बाद दूसरे राउंड में एसोसिएटेड जर्नल और यंग इंडियन से उनके ताल्लुक के बारे में पूछा जाएगा। इसके अलावा तीसरे और आखिरी हिस्से में यह पूछा जाएगा कि कांग्रेस और कंपनियों के बीच क्या संबंध है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.