Tuesday , June 25 2024

भारत से बदला लेने के लिए बाबर आजम ने पाकिस्तान टीम को दिया था ये खास ‘गुरुमंत्र’, जीत के बाद खुद किया चौंकाने वाला खुलासा

बाबर आजम (Babar Azam) की अगुवाई वाली पाकिस्तान क्रिकेट टीम ने एशिया कप 2022 में सुपर-4 स्टेज के पहले ही मैच में भारतीय टीम को रोमांचक मैच मेन पटखनी दी है। दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में फिर एक बार चिर-प्रतिद्वंदी भारत और पाकिस्तान का सामना हुआ। जिसमें पाक टीम पिछले हफ्ते मिली हार का बदला चुकता करने के लिए उतरी थी और इसमें कामयाब भी हुई। अपनी टीम के द्वारा शानदार प्रदर्शन करने के बाद मिली जीत के बाद कप्तान बाबर आजम ने अपनी रणनीति का खुलासा किया है।

बाबर आजम ने खिलाड़ियों को दिया था खास गुरुमंत्र

पाकिस्तान टीम ने भारत (IND vs PAK) से पहले मुकाबले में मार खाने के बाद माकूल जवाब दिया है। पहले गेंदबाजी से भारत की ताबड़तोड़ शुरुआत पर काबू पाते हुए उन्हें 10 से 15 रन कम बनाने दिए। फिर मोहम्मद रिजवान और मोहम्मद नवाज की साझेदारी पाकिस्तान टीम के लिए मैच विनिंग साबित हुई। बाबर आजम ने भी मैच के बाद इन सभी पहलुयों को छूते हुए कहा कि उन्होंने पहले ही अपने खिलाड़ियों को इस मैच को सरल रखने का गुरुमंत्र दिया था। बाबर ने कहा,

“हम इस मैच को सरल रखना चाहते थे, खेल में उतार-चढ़ाव होता रहेगा। जिस तरह से उन्होंने (भारत ने) पावरप्ले का इस्तेमाल किया, उसी तरह से उन्हें बढ़त मिली। लेकिन हमारे गेंदबाजों ने वापसी की। रिजवान और नवाज की साझेदारी मैच का टर्निंग प्वाइंट रही। मुझे लगा था कि नवाज को ऊपर बल्लेबाजी कराना फायदेमंद हो सकता है।”

रोमांचक अंदाज में पाकिस्तान ने मारी बाजी

अंत में बात की जाए मैच की तो भारत और पाकिस्तान (IND vs PAK) के बीच एक बार फिर कांटे की टक्कर देखने को मिली, मुकाबले का नतीजा आखिरी ओवर में जाकर स्पष्ट हो पाया। दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में मुकाबले की शुरुआत से पहले बाबर आजम ने टॉस जीतकर भारतीय टीम को पहले बल्लेबाजी करने का आमंत्रण दिया था। विराट कोहली के अर्धशतक की बदौलत भारत ने 181 रन बनाए। जिसके जवाब में मोहम्मद रिजवान ने पाकिस्तान की ओर से 71 रन बनाए और उनका साथ निभाते हुए मोहम्मद नवाज ने 40 रनों का यहां योगदान दिया, जिसके चलते पाकिस्तान ने 5 विकेट शेष रहते मैच को अपने नाम कर लिया।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch