Sunday , May 26 2024

टीम इंडिया की जीत के बाद भी भड़के रोहित शर्मा, इस बात पर हो गये गुस्सा

टीम इंडिया ने बुधवार को हैदराबाद में खेले गये पहले वनडे मैच में न्यूजीलैंड को भले ही 12 रनों से हरा दिया हो, लेकिन कप्तान रोहित टीम इंडिया की इस जीत से बिल्कुल भी खुश नहीं हैं, टीम इंडिया की जीत के बाद भी कप्तान रोहित बुरी तरह भड़के हैं, किवी टीम के खिलाफ पहले मुकाबले में कप्तान रोहित ने रात के समय गेंदबाजी करने के दौरान हालात को बेहद मुश्किल बताया है।

बुरी तरह भड़के कप्तान

मैच के बाद कप्तान रोहित शर्मा ने बड़ा बयान देते हुए कहा ईमानदारी से कहूं, तो जिस तरह से माइकल ब्रेसवेल बल्लेबाजी कर रहे थे, जिस तरह से उनके बल्ले पर गेंद आ रही थी, वो माइकल ब्रेसवेल की क्लीव बॉल स्ट्राइकिंग थी, हम जानते थे कि अगर हम अच्छी गेंदबाजी करते हैं, तो हम तब तक ठीक रहेंगे, जब तक हम वास्तव में गेंद से फिसले नहीं, दुर्भाग्य से ऐसा ही हुआ, मैंने टॉस के समय कहा था, कि मैं खुद को चुनौती देना चाहता हूं, ये वैसी स्थिति नहीं थी, जिसकी मुझे उम्मीद थी, लेकिन ऐसा होता है।

रोहित का बड़ा बयान

हिटमैन ने कहा शुभमन गिल वास्तव में अच्छा कर रहा है, वो जिस फॉर्म में था, हम उसका फायदा उठाना चाहते थे, इसलिये हमने श्रीलंका सीरीज में उसका समर्थन किया, फ्री-फ्लोइंग बैटर और ये देखना काफी रोमांचक है, सिराज सिर्फ इस खेल में ही नहीं बल्कि रेड बॉल, टी-20 और अब एकदिवसीय में भी शानदार रहे हैं, ये देखना वाकई अच्छा है कि वो गेंद के साथ क्या करता है, वो जो करना चाहता है, उस पर अमल कर रहा है, वो अपनी योजनाओं को लेकर बहुत स्पष्ट है, ये कैसा होना चाहिये।

गिल ने भी भावुक होकर खोल दिया अपना दिल

मैन ऑफ द मैच शुभमन गिल ने कहा मैं मैदान पर जो करना चाहता था, वो करने के लिये बेसब्री से इंतजार कर रहा था, विकेट गिरने के साथ कई बार मैं खुलकर खेलना चाहता था, मुझे खुशी है कि मैं इसे अंत तक कर सका, कभी-कभी जब गेंदबाज शीर्ष पर होता है, तो आपको उन्हें प्रेशर में लाने की जरुरत होती है, मुझे डॉट गेंदों से बचने की जरुरत थी।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch