Wednesday , February 28 2024

यूपी में 1200 करोड़ रुपए का निवेश करेगी जेके सीमेंट, योगी सरकार की छवि और नीतियों से प्रभावित हो आ रहीं कंपनियां

लखनऊ। योगी सरकार की नीतियों और निवेश के लिए उपयुक्त माहौल के चलते न सिर्फ विदेशी बल्कि देश के अंदर भी बड़ी कंपनियां स्वतः ही निवेश के लिए आगे आ रही हैं। इसी क्रम में अब जेके सीमेंट लिमिटेड ने 1200 करोड़ रुपए के निवेश की प्रतिबद्धता जताई है। इसके अंतर्गत कंपनी आगामी 12 महीनों में 500 करोड़ रुपए के निवेश से प्रयागराज में एक यूनिट की स्थापना करेगी।

कंपनी यूपी में 700 करोड़ की दो परियोजनाओं पर पहले से ही काम कर रही है। कंपनी के डिप्टी एमडी और सीईओ 10 से 12 फरवरी के मध्य राजधानी लखनऊ के वृंदावन योजना में आयोजित हो रही उत्तर प्रदेश ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट 2023 में भाग लेंगे, ताकि यूपी में कंपनी के विकास के लिए दीर्घकालिक रोडमैप तैयार किया जा सके। उल्लेखनीय है कि सीएम योगी के निर्देश पर जहां विभिन्न देशों के साथ ही देश के विभिन्न राज्यों में गई टीम योगी को निवेशकों से अच्छा रिस्पॉन्स मिला है तो वहीं ऐसे निवेशकों की भी कमी नहीं जो स्वयं प्रदेश में निवेश के लिए बेताब हैं और यूपीजीआईएस का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। ये निवेशक अब यूपी में निवेश के लिए अपने रोडमैप के साथ सामने आ रहे हैं।

उत्तर प्रदेश निवेश का पसंदीदा गंतव्य
कंपनी के डिप्टी एमडी और सीईओ माधवकृष्ण सिंघानिया ने कहा कि हम इस गतिशील राज्य का हिस्सा बनकर सम्मानित महसूस कर रहे हैं, जिसमें न केवल हमारे लिए भौगोलिक लाभ है, बल्कि यह निवेश और विकास के लिए अवसरों की अधिकता भी प्रस्तुत करता है। व्यवसाय करने में आसानी से लेकर अपने समृद्ध संसाधनों और कुशल कार्यबल के साथ मिलकर एक सहायक व्यापार पारिस्थितिकी तंत्र प्रदान करने तक, उत्तर प्रदेश निश्चित रूप से हमारी विस्तार योजनाओं के लिए एक पसंदीदा गंतव्य है। जेके सीमेंट को प्रयागराज जिले में 2.50 एमटीपीए की क्षमता वाली अपनी तीसरी क्लिंकर ग्राइंडिंग यूनिट की स्थापना की घोषणा करते हुए गर्व हो रहा है। इस परियोजना के अगले 12 महीनों में 500 करोड़ रुपये के निवेश के साथ पूरा होने की उम्मीद है। इसके साथ ही जेके सीमेंट ने पूर्वी भारत में अपनी पहुंच को और मजबूत किया है।

1200 करोड़ का हुआ कुल निवेश
कंपनी ने हाल ही में हमीरपुर (बुंदेलखंड) में अपनी दूसरी ग्रे सीमेंट ग्राइंडिंग यूनिट का उद्घाटन किया है। 400 करोड़ रुपए के प्रस्तावित निवेश के साथ पिछले साल यूपी सरकार के साथ हस्ताक्षरित एक समझौता ज्ञापन के तहत हमीरपुर में नवनिर्मित इकाई की कुल उत्पादन क्षमता 2 मिलियन टन प्रति वर्ष (एमटीपीए) है और इसने काम करना शुरू कर दिया है। वहीं, अलीगढ़ में चालू की गई पहली ग्रीनफील्ड स्प्लिट सीमेंट ग्राइंडिंग यूनिट लगभग 300 करोड़ रुपए के निवेश के साथ 1.50 एमटीपीए की क्षमता के साथ स्थापित की गई थी। 1200 करोड़ रुपये के कुल निवेश के साथ सभी तीन ग्रीनफील्ड ग्राइंडिंग इकाइयां यूपी में अपनी उपस्थिति में सुधार करने और रोजगार के अवसर पैदा करके समुदायों की आजीविका में सुधार के अलावा प्रदेश की अर्थव्यवस्था में भी योगदान देंगी।

सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के लिए दिए जाएंगे 60 करोड़
कंपनी के संस्थापक एमडी और पूर्व अध्यक्ष यदुपति सिंघानिया के नाम पर एक सुपर स्पेशलिटी अस्पताल स्थापित करने के क्षेत्र में सहयोग करने के लिए आईआईटी कानपुर के साथ एक समझौता ज्ञापन पर भी हस्ताक्षर किए गए हैं। कंपनी ने अपने सीएसआर के हिस्से के रूप में 60 करोड़ रुपए के वित्त पोषण के साथ कानपुर में ‘यदुपति सिंघानिया मेमोरियल सुपर स्पेशलिटी अस्पताल’ का समर्थन करने के लिए सहमति व्यक्त की है। यह अस्पताल अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस होगा जो सभी को शीर्ष चिकित्सा देखभाल प्रदान करेगा।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch