Wednesday , February 28 2024

सांसों पर संकट का यह सीन डरावना है, इस राज्य में रोजाना भर्ती हो रहे 600 से ज्यादा मरीज

सांसों पर संकट का यह सीन डरावना है, इस राज्य में रोजाना भर्ती हो रहे 600 से ज्यादा मरीजपश्चिम बंगाल में पिछले ढाई महीने में तीव्र श्वसन (एक्यूट रेस्पिरेटरी) संक्रमण के कुल 12,343 मामले सामने आए हैं। इनमें से अधिकतर मामले बच्चों में पाए गए हैं। एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अब तक 19 लोगों की इस संक्रमण से मौत हुई है, जिनमें से 13 लोग पहले से गंभीर बीमारियों से पीड़ित थे।

अधिकारी ने कहा, “संक्रमण से अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या में कमी आई है और अस्पतालों में प्रतिदिन इसके 800 मरीज की जगह अब हर दिन 600 मरीज भर्ती हो रहे हैं।”
राज्य के मुख्य सचिव एच. के. द्विवेदी की अध्यक्षता में एआरआई पर गठित एक उच्च स्तरीय कार्य बल ने सोमवार को बैठक की और फैसला किया कि निजी अस्पतालों में काम करने वाले चिकित्सकों और निजी चिकित्सकों को प्रशिक्षण दिया जाएगा।

अधिकारी ने बताया कि इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) और इंडियन एसोसिएशन ऑफ पीडियाट्रिशियन (IAP) अपने सदस्यों को इसको लेकर सतर्क करेंगे।उन्होंने कहा, “लक्षणों की शुरुआती पहचान के लिए आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को सामान्य जानकारी और परामर्श दिया जाएगा।” अधिकारी ने बताया कि आशा कार्यकर्ताओं का घर-घर जाकर जागरूकता फैलाने का अभियान भी तेज किया जाएगा।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch