Sunday , February 25 2024

‘अपना मुँह बंद करो आरिफ मोहम्मद खान…’: केरल के गवर्नर को CM के मंत्री दामाद ने धमकाया, काफिले पर भी वामपंथी गुंडों ने किया था हमला

केरल, राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान, पीए मोहम्मद रियास, कन्नूरकेरल के CM पिनाराई विजयन के दामाद PA मोहम्मद रियास ने राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान को लेकर रविवार (17 दिसंबर, 2023) को तीखा बयान दिया है। राज्य के पयर्टन मंत्री रियास का कहना है कि CPM राज्यपाल खान को उनकी बकवास को बंद करने के लिए नहीं कह रही, क्योंकि वे आपके पद का सम्मान करती है।

उन्होंने राज्यपाल पर RSS की शैली में काम करते हुए कन्नूर और केरल के इतिहास को तोड़-मरोड़कर पेश करने और मुख्यमंत्री और उनके गृह जिले का अपमान करने का आरोप लगाया है। दरअसल, मोहम्मद रियास राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान द्वारा मुख्यमंत्री विजयन के गृह जिले पर ‘कन्नूर के खूनी इतिहास’ वाले तंज का जवाब दे रहे थे।

पथानामथिट्टा जिले के कोन्नी में नव केरल सदास के दौरान रियास ने कहा, “ऐसा मत सोचिए कि हम यह नहीं कह सकते – ‘अपना मुँह बंद करो, मिस्टर आरिफ मोहम्मद खान’, लेकिन हम आपकी स्थिति का सम्मान करते हैं और इसीलिए हम ऐसा नहीं कहते हैं।”

इससे पहले केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने भी रविवार को राज्यपाल खान पर जानबूझकर भड़काऊ बयान देकर दक्षिणी राज्य के अमन-चैन में खलल डालने की कोशिश करने का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि राज्यपाल अपने संवेदनहीन बयानों से SFI प्रदर्शनकारियों को भड़का रहे थे।

47 साल के मंत्री रियास ने राज्यपाल को कन्नूर के इतिहास के बारे में नसीहत देनी की कोशिश करते हुए कहा, “कन्नूर का इतिहास क्या है? क्या यह बुरा है? कन्नूर की जमीन पर, औपनिवेशिक ताकतों से लड़ते हुए कई लोग शहीद हुए हैं। कन्नूर ने देश के स्वतंत्रता संग्राम में अहम भूमिका निभाई। आरिफ मोहम्मद खान को कन्नूर और केरल के लिए इतनी नाराजगी क्यों है?” रियास ने दावा किया कि थालास्सेरी में कन्नूर जिले के कम्युनिस्टों की अगुवाई में 1970 के दशक में सांप्रदायिक नफरत के बीज बोने के आरएसएस की कोशिशों का विरोध किया गया था।

उन्होंने कहा, “दिसंबर 1970 में RSS ने सांप्रदायिक हिंसा फैलाने के लिए कन्नूर में थालास्सेरी को चुना। आरिफ मोहम्मद खान को यह जरूर ये पता होगा। उस वक्त जब एक मस्जिद पर हमला करने की कोशिश की गई थी। तब मंगट्टीदम के एक स्थानीय समिति के सदस्य, कॉमरेड यू के कुन्हिरमन अन्य कम्युनिस्टों के साथ मस्जिद की रक्षा के लिए खड़े थे। आरएसएस ने उन पर हमला करते हुए कहा कि वह मप्पिला (मलयाली भाषा के मुस्लिम) का बच्चा हैं।”

रियास ने आगे कहा, “क्षेत्र में दंगा रोकने के लिए लाल झंडे वाली एक काली जीप यह ऐलान करते हुए घूम रही थी कि हमें शांति बनाए रखनी चाहिए। उस ऐलान करने वाली गाड़ी ने सांप्रदायिक सद्भाव की जरूरत लोगों को बताई थी। ऐलान करने वालों ने ऐलान किया कि वे अपनी जिंदगी की कीमत पर भी थालास्सेरी में शांति और सद्भाव बनाए रखेंगे। उस दिन जीप के आगे बैठा एक युवक आज केरल का मुख्यमंत्री है। आरिफ मोहम्मद खान को समझना चाहिए कि वह व्यक्ति कॉमरेड पिनाराई विजयन थे।”

गौरतलब है कि हाल ही में केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान के काफिले पर राजधानी तिरुवनंतपुरम में जानलेवा हमला किया गया था। यह हमला कम्युनिस्ट छात्र संगठन SFI के गुंडों ने किया था। इसके बाद राज्य खुफिया विभाग ने खुलासा किया था उसने SFI के राज्यपाल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन की योजना के बारे में चेतावनियाँ जारी की थीं।

राज्यपाल खान ने भी इस हमले में सीएम पिनाराई विजयन का हाथ होने का आरोप लगाया था। इसके बावजूद उनका ट्रैवल रूट SFI को लीक किया गया था। खुफिया विभाग ने दावा किया था कि पुलिस एसोसिएशन के लीडर ने इसे सोमवार 11 दिसंबर, 2023 सुबह SFI को लीक कर दिया गया था।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch