Thursday , June 20 2024

‘मंडी में रं&… रेट सही मिलता है’: BJP का टिकट मिलने के बाद कंगना रनौत को गाली दे रहे कॉन्ग्रेसी-इस्लामवादी, नेशनल हेराल्ड की महिला संपादक भी पीछे नहीं

कंगना रनौत

खुद को नारीवादी और पत्रकार बताने वाली मृणाल पांडे ने एक्स पर लिखा, “शायद यूँ कि मंडी में सही रेट मिलता है?”

भाजपा ने हिमाचल प्रदेश की मंडी लोकसभा सीट से अभिनेत्री कंगना रनौत को उम्मीदवार बनाया है। कंगना को टिकट मिलने के बाद उनके खिलाफ अभद्र टिप्पणियों की बाढ़ आ गई है। टिप्पणी करने वालों में कॉन्ग्रेस के पदाधिकारी और इस्लामी नामों वाले अकाउंट हैं।

रविवार (24 मार्च, 2024) को जारी की गई भाजपा उम्मीदवारों की पाँचवी सूची में कंगना रनौत का नाम हिमाचल प्रदेश की मंडी लोकसभा सीट से घोषित किया गया। कंगना रनौत मंडी लोकसभा की खुद निवासी हैं। हालाँकि, उनको टिकट मिलने के बाद सोशल मीडिया पर अभद्र टिप्पणियों की बाढ़ आ गई।

खुद को नारीवादी और पत्रकार बताने वाली मृणाल पांडे ने एक्स पर लिखा, “शायद यूँ कि मंडी में सही रेट मिलता है?”

मृणाल पांडे का ट्वीट
मृणाल पांडे का ट्वीट

चौतरफा छीछालेदर के बाद कॉन्ग्रेसी मुखपत्र नेशनल हेराल्ड की संपादक मृणाल पांडे ने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया है। कॉन्ग्रेस की ही राष्ट्रीय प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत के अकाउंट से लिखा गया, “क्या भाव चल रहा है मंडी में कोई बताएगा?”

 

यह पोस्ट भी श्रीनेत के अकाउंट से हटा दिया गया है। इस पर सुप्रिया श्रीनेत ने सफाई दी है कि उनके फेसबुक और इन्स्टाग्राम अकाउंट को किसी और का भी एक्सेस था और उसने यह पोस्ट की। उन्होंने कहा है कि वह ऐसा पोस्ट कभी नहीं करती।

गुजरात कॉन्ग्रेस के किसान मोर्चा के संयुक्त संयोजक HS अहीर ने कंगना के बारे में अभद्र शब्द का इस्तेमाल किया।

खुद को मुसलमान बताने वाले एक अकाउंट ने यही शब्द उपयोग किया।

इंडियन मुस्लिम नाम वाले अकाउंट ने भी यही ट्वीट किया

एक और कॉन्ग्रेसी मनीष ने मंडी शब्द के सहारे कंगना पर निशाना साधना चाहा।

कंगना का विरोध करने वालों ने भाषाई स्तर की बिलकुल भी परवाह नहीं की। एक और ट्विटर यूजर ने कंगना की एक फोटो के साथ अभद्र भाषा का प्रयोग किया।

यह पहली बार नहीं है कि ट्रोल किसी को निशाने पर ले रहे हों। लगातार ऐसा होता आया है। कंगना के विरुद्ध ऐसा इसलिए किया जा रहा है क्योंकि वह भाजपा से उम्मीदवार बन गई हैं और इससे पहले भी हिन्दुओं के मुद्दों पर मुखर रूप से बोलती रही हैं।

 

मंडी लोकसभा सीट अभी कॉन्ग्रेस के पास है। हिमाचल प्रदेश अध्यक्ष प्रतिभा सिंह इस सीट से सांसद हैं। वह 2021 में यहाँ से उपचुनाव जीत कर सांसद बनी थीं। हालाँकि, उन्होंने अबकी से चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया है। अभी कॉन्ग्रेस ने इस सीट से अपना उम्मीदवार घोषित नहीं किया है। ऐसे में कंगना की राह और भी आसान हो सकती है।

 

कंगना ने टिकट मिलने के बाद चुनाव तैयारी भी चालू कर दी है। वह अपने क्षत्र में लगातार चुनाव अभियान में जुटी हुई हैं। उन्होंने भाजपा नेतृत्व को टिकट देने के लिए धन्यवाद भी दिया है।

‘भाव’ पूछ रही थी सुप्रिया श्रीनेत, कंगना रनौत ने की बोलती बंद: थू-थू के बाद कॉन्ग्रेस नेता की सफाई- मेरा अकाउंट ‘हैक’ हुआ, पैरोडी अकाउंट पर चाहती हैं एक्शन

सुप्रिया कंगनाभाजपा की तरफ से हिमाचल प्रदेश की मंडी से लोकसभा उम्मीदवार घोषित होने के बाद कंगना रनौत के खिलाफ ऑनलाइन गालियाँ देने का अभियान चलाया गया। उनके लिए बेहद अभद्र शब्द इस्तेमाल किए गए। इस पूरे अभियान में कॉन्ग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत भी शामिल रहीं। हालाँकि, बाद में वह बचती नजर आईं।

रविवार (24 मार्च, 2024) को भाजपा द्वारा जारी की गई सूची में अभिनेत्री कंगना रनौत का नाम हिमाचल प्रदेश की मंडी लोकसभा से घोषित किया गया। कंगना मंडी की ही निवासी हैं। हालाँकि, उनको टिकट मिलने के कुछ घंटों के बाद ही उनको गालियाँ देने और ट्रोल करने का अभियान चालू हो गया।

कॉन्ग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने इन्स्टाग्राम अकाउंट पर कंगना की एक फोटो डालते हुए लिखा, “क्या भाव चल रहा है मंडी में कोई बताएगा?”

सुप्रिया का कंगना पर पोस्ट

सुप्रिया के यह पोस्ट करने के बाद उनकी जम कर आलोचना हुई है। कंगना रनौत ने उन पर प्रश्न उठाते हुए ट्विटर लिखा, “प्रिय सुप्रिया जी, एक कलाकार के रूप में अपने 20 वर्ष के करियर में मैंने हर तरह की महिला की भूमिका निभाई है। क्वीन फिल्म में एक भोली लड़की से लेकर धाकड़ फिल्म में एक जासूस तक, मणिकर्णिका में एक देवी से लेकर चंद्रमुखी में एक राक्षसी तक, रज्जो में एक वेश्या से लेकर थलैवी में एक क्रांतिकारी नेता तक।”

उन्होंने आगे लिखा, “हमें अपनी बेटियों को पूर्वाग्रहों के बंधनों से मुक्त करना होगा, हमें उनके शरीर के अंगों के बारे में जानने से ऊपर उठना होगा और सबसे बढ़कर हमें सेक्स वर्कर की चुनौतियों को गाली की तरह उपयोग नहीं करना चाहिए, हर महिला अपनी सम्मान की हकदार है।”

सुप्रिया पर अन्य लोगों ने भी हमला बोला। भाजपा प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने कहा, “यह भद्दे से भी भद्दा है। सुप्रिया श्रीनेत के कंगना रनौत पर कहे गए शब्द अपमानजनक हैं। सुप्रिया को तुरंत हटाया जाना चाहिए। क्या प्रियंका गाँधी बोलेंगी। क्या खरगे जी उन्हें हटाएँगे।”

सुप्रिया के पोस्ट पर भाजपा नेता तेजिंदर बग्गा ने कहा कि कॉन्ग्रेस का महिला विरोधी चेहरा फिर से सामने आ गया है।

भाजपा आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय भी ने उन पर प्रश्न खड़े किए।

सुप्रिया के इस पोस्ट पर प्रश्न उठाए जाने पर उन्होंने इसे हटा लिया और ट्विटर पर सफाई पेश की। उन्होंने ट्विटर पर एक ट्वीट लिख कर अकाउंट का एक्सेस किसी और के हाथ में होने और साथ ही एक पैरोडी अकाउंट पर दोष मढ़ने का प्रयास किया। कुल मिलाकर इस ट्वीट के लिए उन्होंने अकाउंट हैक होने की तरफ इशारा किया।

उन्होंने लिखा, “मेरे मेटा अकाउंट (फेसबुक और इंस्टा) का एक्सेस रखने वाले किसी व्यक्ति ने एक काफी घृणित और आपत्तिजनक पोस्ट की, जिसे हटा दिया गया है। जो भी मुझे जानता है उसे पता होगा कि मैं किसी महिला के लिए ऐसा कभी नहीं कहूँगी। हालाँकि, मुझे अभी पता चला है कि मेरे नाम से एक पैरोडी अकाउंट ट्विटर पर चलाया जा रहा है, इससे ही पूरी शरारत शुरू हुई और इसकी रिपोर्ट की जा रही है।”

सुप्रिया श्रीनेत की इन टिप्पणियों पर चौतरफा उनकी आलोचना हो रही है। कॉन्ग्रेस अध्यक्ष और राष्ट्रीय महिला आयोग से उन पर एक्शन लेने की माँग की जा रही है। पोस्ट डिलीट करके उन्होंने सफाई पेश की है लेकिन लोग पूछ रहे हैं कि आखिर उनके द्वारा ऐसा पोस्ट हुआ ही क्यों।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch