Sunday , July 14 2024

रेसलर बजरंग पूनिया ने जीता सबका दिल, अटल जी को समर्पित किया गोल्ड मेडल

जकार्ता। अठारहवें एशियाई खेलों में 65 किलो फ्रीस्टाइल कुश्ती में पीला तमगा जीतकर भारत को पहला स्वर्ण दिलाने वाले बजरंग पूनिया ने अपना पदक दिवंगत प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को समर्पित किया. वाजपेयी का लंबी बीमारी के बाद 16 अगस्त को निधन हो गया था. पूनिया ने कहा, “मैं यह स्वर्ण पदक पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को समर्पित करता हूं जिनका हाल ही में निधन हुआ है.”

 

उन्होंने इस पदक का श्रेय अपने मेंटर योगेश्वर दत्त को भी दिया जिन्होंने 2014 में यह कारनामा किया था. उन्होंने कहा, “योगी भाई ने मुझसे कहा कि मैने 2014 में यह किया था और अब तुम्हे करना है. जब उन्होंने जीता था तब उससे पहले के पदक में और उनके पदक में काफी साल का अंतर था. मैं जीत की परंपरा कायम रखना चाहता था.”

 

उन्होंने जीत के बाद कहा, “यह मेरे लिए सबसे बड़ा पदक है. यहां जीतने पर आप टोक्योओलंपिक के दावेदार बन जाते हैं. मेरी नजरें ओलंपिक पर है और मैं उसी की तैयारी कर रहा हूं. मैं विश्व चैम्पियनशिप में भी इस प्रदर्शन को दोहराने की कोशिश करूंगा.”

उन्होंने कहा, “एशियाड में भारत ने कुश्ती में ज्यादा स्वर्ण नहीं जीते हैं. यह मेरे लिए बड़ी उपलब्धि है. योगेश्वर और राजिंदर सिंह के बाद एक साल में दो स्वर्ण (राष्ट्रमंडल और एशियाड) जीतने वाला मैं तीसरा पहलवान हूं और मुझे इस पर गर्व है.”

उधर, हरियाणा सरकार ने इंडोनेशिया के जकार्ता में खेले जा रहे 18वें एशियाई खेलों के पहले दिन रविवार को स्वर्ण पदक जीतने वाले भारतीय पहलवान बजरंग पुनिया को तीन करोड़ रुपये पुरस्कार राशि देने की घोषणा की है.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About admin