अखिलेश से पौने दो घंटे तक मिले मुलायम, EC से चिट्ठी वापस लेने को कहा

9
0

लखनऊ। समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने विधानसभा चुनावों में सीएम पद पर दावेदारी स्वीकार करने के बाद मंगलवार को अखिलेश से करीब पौने दो घंटे तक बैठक की। सूत्रों के मुताबिक मुलायम ने अखिलेश को एक बार फिर भरोसा दिलाया कि यूपी में सीएम का चेहरा वह ही होंगे। इसके अलावा मुलायम ने कहा कि पार्टी के अध्यक्ष वही बने रहेंगे। सूत्रों की मानें तो मुलायम ने अखिलेश से चुनाव आयोग को दिया गया पत्र वापस मांगने को भी कहा है। वहीं मुलायम ने साफ किया है कि वह चुनावों का नेतृत्व करेंगे।

Mulayam Singh Yadav assured Akhilesh Yadav in the meeting that he will be the CM’s face in UP & Mulayam will remain party President: Sources

ANI UP

loading...

@ANINewsUP

Mulayam Yadav also urged Akhilesh to withdraw letter from EC; emphasised he remains head of pol set-up&Akhilesh must command Admin.: Sources

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मीटिंग से बाहर आने के बाद अखिलेश ने कार्यकर्ताओं और प्रत्याशियों से अपनी विधानसभाओं में चुनाव प्रचार शुरू करने को कहा। अभी पार्टी या किसी नेता की ओर से कोई अधिकारिक बयान नहीं आया है इसलिए इस बैठक को पार्टी में चल रहे विवाद का अंत मान लेना जल्दबाजी होगी।

बता दें कि समाजवादी पार्टी के भीतर कलह के बीच मुलायम सिंह यादव ने सोमवार को अपने बेटे अखिलेश यादव का समर्थन करते हुए कहा था कि अगर पार्टी सत्ता में आई तो वह उत्तर प्रदेश के अगले मुख्यमंत्री होंगे। मीडिया से बातचीत के दौरान मुलायम ने कहा, ‘अखिलेश अगले मुख्यमंत्री होंगे। हमारी पार्टी पूरी तरह से एकजुट है। पार्टी के टूटने का सवाल ही नहीं उठता।’

हैरानी भरा यह बयान ऐसे दिन आया है जब समाजवादी पार्टी के भीतर गुटीय जंग चरम पर पहुंच चुकी है। अखिलेश खेमे ने विवादित पार्टी चिह्न पर जल्द फैसले की मांग की वहीं समाजवादी पार्टी संस्थापक ने जोर दिया कि वह अब भी पार्टी प्रमुख हैं। सोमवार को मुलायम के रुख में बड़ा बदलाव आया। इससे पहले मुलायम ने अखिलेश को सीएम पद का उम्मीदवार मानने से इनकार करते हुए कहा था कि नए विधायक अपना नेता खुद चुनेंगे।

पिता-पुत्र के बीच अकेले में चल रही मीटिंग के बीच शिवपाल यादव ने एक चैनल से बात करते अखिलेश को सीधे सीएम उम्मीदवार नहीं माना। उन्होंने कहा कि नेताजी का जो फैसला होगा वह मानेंगे। शिवपाल ने सीधे अखिलेश का नाम नहीं लिया। पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद नरेश अग्रवाल द्वारा लगाए गए तंत्र-मंत्र के आरोपों का जवाब देते हुए शिवपाल ने कहा कि अगर यह सब आता होता तो वह नेताजी को पीएम बना चुके होते।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

डेनमार्क ओपन में भारत किदांबी श्रीकांत चैंपियन, फाइनल में कोरिया के ली ह्यून को हराया

ओडेंसे (डेनमार्क)। भारतीय बैडमिंटन स्‍टार किदांबी श्रीकांत ने 7 लाख