किम जोंग ने रोके सभी न्यूक्लियर टेस्ट, ट्रंप बोले- दुनिया के लिए अच्छी खबर

प्योंगयांग। अपनी ताकत की नुमाइश कर अमेरिका समेत दुनिया के दूसरे देशों को हैरत में डाल देने वाले उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग उन ने बड़ा फैसला लिया है. किम जोंग ने अपने न्यूक्लियर और बैलिस्टिक मिसाइलों के परीक्षण रोकने का फैसला कर लिया है.

नॉर्थ कोरिया की आधिकारिक कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी ने बताया है कि न्यूक्लियर और मिसाइलों का टेस्ट शनिवार से रोक दिया जाएगा. यानी आज से नॉर्थ कोरिया अपने यहां होने वाले सभी न्यूक्लियर टेस्ट प्रोग्राम्स रोकने जा रहा है. इतना ही नहीं, किम जोंग ने सभी परमाणु साइटों को भी बंद करने का निर्णय लिया है.

बताया जा रहा है कि किम जोंग उन ने यह फैसला देशहित में लिया है. न्यूज एजेंसी के मुताबिक, किम जोंग उन के इस कदम के पीछे मुल्क की अर्थव्यवस्था और राष्ट्रीय मुद्दों पर फोकस करने की सोच है.

किम जोंग उन का यह फैसला काफी अहम माना जा रहा है. उन्होंने यह घोषणा ऐसे वक्त की है, जब वो कुछ दिन बाद ही साउथ कोरिया के राष्ट्रपति से एक समिट में मिलने वाले हैं.

ट्रंप ने किया स्वागत

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने नॉर्थ कोरिया के इस फैसले की सराहना की है. ट्रंप ने ट्वीट किया, ‘नॉर्थ कोरिया न्यूक्लियर टेस्ट प्रोग्राम रोकने पर राजी हो गया है. यह नॉर्थ कोरिया और दुनिया के लिए बहुत ही अच्छी खबर है.’

Loading...

Donald J. Trump

@realDonaldTrump

North Korea has agreed to suspend all Nuclear Tests and close up a major test site. This is very good news for North Korea and the World – big progress! Look forward to our Summit.

 बता दें कि किम जोंग उन पिछले कुछ वक्त से दुनिया के दूसरे मुल्कों से रिश्ते सुधारने की कोशिश करते दिखाई दे रहे हैं. इस कड़ी में उन्होंने 2011 में सत्ता संभालने के बाद पहली बार विदेश दौरा किया और हाल ही में वो चीन गए. जहां उन्होंने राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात की. इसके बाद उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री रूस के दौरे पर गए.

अब जबकि किम जोंग की मुलाकात साउथ कोरिया के राष्ट्रपति और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से बहुत जल्द होने वाली है. उससे पहले ही किम जोंग उन ने अपने विवादित न्यूक्लियर कार्यक्रमों को रोक दिया है. किम का यह फैसला पूरी दुनिया के लिए राहत की खबर है. खासकर, अमेरिका के लिए यह बड़ी खबर है क्योंकि किम खुलेआम ट्रंप को युद्ध की चुनौती देते रहे हैं.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

‘हिंदू पाकिस्तान’ के बाद थरूर का ‘हिंदू तालिबान’, अश्विनी चौबे बोले- जाएं पाकिस्तान

नई दिल्ली। ‘हिंदू पाकिस्तान’ वाला बयान देने के बाद